5 किलो IED के साथ जम्मू के कानाचक सेक्टर में उड़ता दिखा पाकिस्तानी ड्रोन, सुरक्षा बल ने मार गिराया

2021-07-23T12:04:04.447

नेशनल डेस्क:   जम्मू-कश्मीर पुलिस ने जम्मू जिले के सीमावर्ती इलाके में पांच किलोग्राम वजन की आईईडी सामग्री ले जा रहे ड्रोन को मार गिराया। पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि बृहस्पतिवार रात को अंतरराष्ट्रीय सीमा (आईबी) के साथ कनाचक की सीमा पर एक ड्रोन के उड़ने की सूचना के बाद पुलिस की एक त्वरित प्रतिक्रिया टीम (क्यूआरटी) हरकत में आई और ड्रोन विरोधी रणनीति का इस्तेमाल करते हुए उसे मार गिराया।

PunjabKesari

अधिकारियों ने बताया कि ड्रोन सीमा के अंदर सात से आठ किलोमीटर अंदर उड़ रहा था, इसके छह बड़े पंख थे और यह एक टेट्रा-कॉप्टर था। उन्होंने बताया कि आईईडी सामग्री को ड्रोन के साथ जोड़ा गया था और प्रतीत होता है कि उपयोग करने से पहले विस्फोटक सामग्री को जोड़कर आईईडी बनाना था।

PunjabKesari

वहीं हाल ही  में  जम्मू कश्मीर के पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) दिलबाग सिंह ने कहा था कि ड्रोन ने आतंकी समूहों से सुरक्षा खतरों में एक नया आयाम जोड़ा है। उन्होंने बताया कि अतीत में सीमा पार से ड्रोन का इस्तेमाल भारतीय क्षेत्र के अंदर मुद्रा, हथियार और गोला-बारूद गिराने के लिए किया गया तथा आतंकी गतिविधियों में मानव रहित विमानों (यूएवी) की शुरुआत के साथ इस नए और उभरते खतरे को असरदार तरीके से निष्प्रभावी करने के प्रयासों की आवश्यकता है। 

PunjabKesari

डीजीपी ने कहा, ‘‘ड्रोन हाल में आए हैं, कह सकते हैं कि पिछले साल सितंबर में। पहले हैरानी हुई, लेकिन हम उस खतरे का मुकाबला करने के लिए अपने संसाधनों को तैयार करने में सक्षम हैं।  जम्मू वायु सेना स्टेशन पर ड्रोन का इस्तेमाल इम्प्रोवाइज्ड एक्सप्लोसिव डिवाइस (आईईडी) गिराने के लिए किया गया था। 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

vasudha

Recommended News