गुरुद्वारे पर आतंकी हमले का भारत ने जताया दुख, कहा- हम काबुल के साथ हैं

2020-03-25T15:36:02.963

नेशनल डेस्क: भारत ने अफगानिस्तान की राजधानी काबुल स्थित गुरूद्वारे में किए गए ‘कायराना' हमले पर दुख प्रकट किया है। विदेश मंत्रालय ने अपने बयान में कहा कि कोरोना वायरस की महामारी के प्रकोप के बीच अल्पसंख्यक समुदाय के धार्मिक पूजास्थल पर ऐसे हमले हमलावरों की शैतानी मानसिकता को दर्शाते हैं। 

PunjabKesari

मंत्रालय ने कहा कि हम इस हमले में मारे गए लोगों के परिवार के सदस्यों के प्रति गहरी संवेदना प्रकट करते हैं और घायलों के जल्द स्वस्थ होने की कामना करते हैं। भारत इस घड़ी में अफगानिस्तान में प्रभावित हिन्दू एवं सिख समुदाय के परिवारों को हर संभव सहायता प्रदान करने को तत्पर है । गौरतलब है कि अफगानिस्तान की राजधानी काबुल के पुराने शहर के बीचोंबीच स्थित गुरुद्वारे में घुसकर बुधवार को बंदूकधारियों ने हमला किया जिसमें कम से कम ग्यारह लोगों की मौत हो गई। एक सिख सांसद ने यह जानकारी दी। 

PunjabKesari

विदेश मंत्रालय ने कहा कि कोरोना वायरस की महामारी के प्रकोप के बीच अल्पसंख्यक समुदाय के धार्मिक पूजास्थल पर ऐसा कायराना हमला, इन हमलावरों एवं उनका समर्थन करने वालों की शैतानी मानसिकता को दर्शाता है । मंत्रालय ने कहा कि हम अफगानिस्तान के लोगों एवं देश की सुरक्षा और इस हमले का जवाब देने के लिये अफगानिस्तान के बहादुर सुरक्षा बलों के पराक्रम, उनके साहस और समर्पण की सराहना करते हैं। बयान के अनुसार भारत, अफगानिस्तान में शांति एवं सुरक्षा का वातावरण लाने के प्रयासों में वहां के लोगों, सरकार और सुरक्षा बलों के साथ खड़ा है। 

PunjabKesari


vasudha

Related News