26/11 मुंबई हमले की बरसी पर दुनिया भर में पाकिस्तान के खिलाफ प्रदर्शन व रोष मार्च

punjabkesari.in Saturday, Nov 27, 2021 - 04:33 PM (IST)

इंटरनेशनल डेस्कः मुंबई में 26/11 हमले की 13वीं बरसी के मौके पर शुक्रवार को दुनिया भर में पाकिस्तान के खिलाफ रोष प्रदर्शन व श्रद्धांजलि कार्यक्रमों का आयोजन किया गया। बेल्जियम की राजधानी ब्रसेल्स में  यूरोपीय संसद के सामने  किए गए रोष  प्रदर्शन में  मंबई हमलों की निंदा की गई। प्रदर्शनकारियों ने पाकिस्तान के आतंकी कृत्यों व भारत के खिलाफ छद्म युद्ध की आलोचना की और पाकिस्तान के खिलाफ नारे लगाए ।

PunjabKesari

प्रदर्शनकारियों ने कहा कि समूह के सदस्यों की संवेदना उन लोगों के लिए है जिन्होंने आतंकवादी हमले में अपने प्रियजनों को खो दिया।  26 नवंबर 2008 को पाकिस्तान से लश्कर-ए-तैयबा के 10 आतंकवादी समुद्री मार्ग से मुंबई पहुंचे थे और उन्होंने कई स्थानों पर अंधाधुंध गोलीबारी की  जिसमें 18 सुरक्षा कर्मियों समेत 166 लोगों की मौत हो गई थी । मृतकों में 15 देशों के 26 नागरिक भी मारे गए थे और 300 से अधिक लोग गंभीर रूप से घायल हो गए थे। 

PunjabKesari

उन्होंने मुंबई में एक रेलवे स्टेशन, एक लग्जरी होटल और एक यहूदी केंद्र पर सीरियल धमाके किए थे। आतंकवादी अरब सागर में समुद्री मार्ग का उपयोग करके भारत की आर्थिक राजधानी में घुसे थे। हमलों में मारे गए लोगों में दो कनाडाई नागरिक भी थे। पीड़ितों की याद में शुक्रवार को टोरंटो के डंडास स्क्वायर में श्रद्धांजलि दी गई । कार्यक्रम के आयोजकों ने कनाडा सरकार से आग्रह किया कि वह पाकिस्तान  सरकार से  सभी साजिशकर्ताओं पर मुकदमा चलाने के लिए कहे ताकि पीड़ित परिवारों को न्याय मिल सके।

 

इस हमले में अमेरिका ने अपने छह नागरिकों को खो दिया था। अमेरिका में मुंबई हमलों की 13वीं वर्षगांठ  पर वाशिंगटन स्थित भारतीय दूतावास में भी कार्यक्रम का आयोजन कर मृतकों को श्रद्धांजलि दी गई और पीड़ित परिवारों के लिए न्याय की मांग की गई । कार्यक्रम में गणमान्य व्यक्तियों द्वारा मोमबत्तियां जलाकर मुंबई हमलों के पीड़ितों की याद में एक मिनट का मौन रखा गया।

PunjabKesari

बांग्लादेश में की राजधानी ढाका में भी मुंबई आतंकवादी हमलों की 13 वीं वर्षगांठ के अवसर पर रोष मार्च का आयोजन किया गया था और हमलों में  जान गंवाने वालों को याद किया गया था। विश्व हिंदू परिषद बांग्लादेश चैप्टर द्वारा आयोजित इस रोष मार्च में लोग "हम कभी नहीं भूलेंगे" संदेश वाली तख्तियां लिए हुए थे।

 

अहसान मंजिल, जशोर में आयोजित इस प्रदर्शन के दौरान, प्रदर्शनकारियों ने पोस्टर पकड़ रखे थे जिसमें लिखा था, "26/11 का मुंबई आतंकवादी हमला, हम कभी नहीं भूलेंगे" और "एक दुखद दिन में अपनी जान गंवाने वाले बहादुर नायकों को श्रद्धांजलि।" रैली के आयोजकों ने कहा कि देश भर में चल रही सांप्रदायिक हिंसा का मुकाबला करने और आतंकवाद और उग्रवाद का समर्थन करने वाली पाकिस्तानी ताकतों का मुकाबला करने के लिए विरोध प्रदर्शन किया जा रहा है।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Tanuja

Related News

Recommended News