इकोनॉमी, इंफ्रास्ट्रक्चर, सिस्टम, डेमोग्राफी, डिमांड भारत की ग्रोथ के पांच पिलर- PM मोदी

05/12/2020 9:56:25 PM

नई दिल्लीः प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज देश को संबोधित करते हुए 'आत्म निर्भर भारत' का नया नारा दिया। उन्होंने कहा कि देश ग्लोबल वर्ल्ड में आत्मनिर्भर की परिभाषा बदल रही है। विश्व का सामने भारत एक आशा की किरण नजर आता है। भारत की संस्कृति, भारत के संस्कार उस आत्मनिर्भर की बात करते हैं, वसुधैव कुटुम्बक है। विश्व एक परिवार। भारत की आत्मनिर्भरता में संसार के सुख सहयोग और शांति की चिंता होती है। जो जीव मात्र का कल्याण चाहती हो, जो पूरे विश्व को परिवार मानती हो। जो पृथ्वी को मां मानती हो। वो संस्कृति और भारत भूमि आत्मनिर्भर बनती है। भारत की प्रगति में तो हमेशा विश्व की प्रगति समाहित रही है।

पीएम मोदी ने आत्मनिर्भर भारत बनाने के लिए और भारत की आर्थिक वृद्धि के लिए पांच नए पिलर का उल्लेख किया। जिसमें उन्होंने कहा कि भारत को आत्मनिर्भर बनाने के लिए पांच पिलर जरूरी हैं। इकोनॉमी, इफ्रांस्ट्रक्चर, सिस्टम, डेमोग्राफी, डिमांड।
PunjabKesari
इकॉनोमी
एक ऐसी इकॉनोमी जो इंक्रीमेंटल चेंज नहीं बल्कि क्वाटंम जंप लाए।

इंफ्रास्ट्रक्चर
एक ऐसा जो आधुनिक भारत की पहचान बने।

सिस्टम
एक ऐसा सिस्टम जो बीती शताब्दी की रीति नीति नहीं, बल्कि 21 वीं सदी के सपनों को साकार करने वाली टेक्नोलॉजी ड्रिवन व्यवस्थाओं पर आधारित हो।
PunjabKesari
डेमोग्राफी
दुनिया की सबसे डेमोक्रेसी में हमारी बाइव्रेंट डेमोग्राफी हमारी ताकत है, आत्मनिर्भर भारत के लिए हमारी ऊर्जा का स्त्रोत है

डिमांड
हमारी अर्थव्यवस्था में डिमांड और सप्लाई चेन का जो चक्र है, जो ताकत है, उसे पूरी क्षमता से इस्तेमाल किए जाने की जरूरत है। देश में डिमांड बढ़ाने के लिए डिमांड बढ़ाने के लिए हर स्टेक होल्डर का सशक्त होना जरूरी है। हमारी सप्लाई चेन, हमारी आपूर्ति की उस व्यवस्था को हम मजबूत करेंगे, जिसमें हमारे देश की मिट्टी की महक हो, हमारे मजदूर के पसीने की खुशबू हो।
PunjabKesari
20 लाख करोड़ के पैकेज का किया ऐलान
प्रधानमंत्री मोदी ने कोरोना वायरस महामारी और लॉकडाउन से प्रभावित अर्थव्यवस्था को उबारने और किसानों, श्रमिकों, मध्यमवर्ग के लोगों समेत समाज सभी प्रभावित वर्गों और क्षेत्रों को राहत देने के लिए 20 लाख करोड़ रुपये के विशेष आर्थिक पैकेज की घोषणा की। देश के नाम टीवी पर संदेश में उन्होंने कहा कि सरकार के हाल के निर्णय, रिजर्व बैंक की घोषणाओं को मिलाकर यह पैकेज करीब 20 लाख करोड़ रुपये का होगा जो देश के सकल घरेलू उत्पाद का लगभग 10 प्रतिशत है। प्रधानमंत्री ने कहा कि इस पैकेज के बारे में विस्तृत ब्योरा वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण कल से अगले कुछ दिनों तक देंगी।
PunjabKesari
मोदी ने कहा कि यह बड़ा संकट है लेकिन भारत कोरोना वायरस महामारी के खिलाफ जारी अभियान में हार नहीं मानेगा और एक समृद्ध देश के रूप में उभरेगा। उन्होंने कहा, ‘‘हमें स्वयं की रक्षा करनी है और आगे भी बढ़ना है।'' प्रधानमंत्री ने कहा कि यह आर्थिक पैकेज हमारे श्रमिकों, किसानों, ईमानदार करदाताओं सूक्ष्म, लघु एवं मझोले उद्यमों और कुटीर द्योगों के लिये होगा। उन्होंने कहा कि भारत पांच आधार स्तंभों...अर्थव्यवस्था, बुनियादी ढांचा, शासन व्यवस्था, जीवंत लोकतंत्र और आपूर्ति श्रृंखला... पर खड़ा है।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Yaspal

Recommended News