दिल्ली हिंसा: पुलिस ने हत्या, दंगों के मामलों में दायर की तीन चार्जशीट, कपिल मिश्रा का नाम नहीं

06/09/2020 8:05:34 PM

नई दिल्लीः दिल्ली पुलिस ने उत्तर-पूर्वी दिल्ली में फरवरी में संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) के खिलाफ प्रदर्शनों के दौरान हुई सांप्रदायिक हिंसा से संबंधित मामलों में यहां की एक अदालत के समक्ष मंगलवार को तीन चार्जशीट दायर की हैं। पुलिस की अपराध शाखा ने मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट राकेश कुमार रामपुरी के समक्ष चार्जशीट दायर किए जिन्होंने मामले में अगली सुनवाई के लिए 23 जून की तारीख निर्धारित की है।

दंगों से संबंधित मामलों में दिल्ली पुलिस अब तक 20 चार्जशीट दायर कर चुकी है और इससे जुड़े 59 मामलों की जांच कर रही है। तीनों चार्जशीट दो लोगों--मोहम्मद फुरकान और दीपक-- की हत्या और मौजपुर चौक पर हुई हिंसा के मामले में दायर किए गए हैं। मौजपुर चौक पर हुई हिंसा में सीएए विरोधी और सीएए समर्थक प्रदर्शकारियों के बीच झड़प हुई थी। इस दौरान पथराव, तोड़फोड़, आगजनी और गोलीबारी हुई थी। चार्जशीटके अनुसार दंगों के पीछे गहरी साजिश थी। पुलिस ने कहा कि अनेक षड्यंत्रकारियों, लोगों को भड़काने वालों और दंगाइयों की पहचान हुई है और इनमें से कई को गिरफ्तार किया जा चुका है।

चार्जशीट में कहा गया है कि जांच के दौरान स्थापित हुआ कि दंगे स्वत: स्फूर्त नहीं थे, बल्कि सीएए के लोकतांत्रिक विरोध के बहाने सांप्रदायिक तनाव उत्पन्न करने और देश की छवि खराब करने के इरादे से रची गई गहरी साजिश का हिस्सा थे। पुलिस ने 24 फरवरी को दंगों के दौरान कथित तौर पर गोली लगने से मारे गए फुरकान की हत्या के मामले में चार लोगों को आरोपी बनाया है।

चार्जशीट में कहा गया है कि फुरकान कर्दमपुरी चौक पर था और उस समय दंगाई पथराव तथा आगजनी कर रहे थे। इस दौरान फुरकान तथा चार अन्य लोग गोली लगने से घायल हो गए। बाद में फुरकान की मौत हो गई। भारी पथराव में 17 पुलिसकर्मी भी घायल हुए। दूसरी चार्जशीट दीपक की हत्या से जुड़ा है जिसमें 25 फरवरी को कर्दमपुरी में डिस्पेंसरी के पास उसे पीट-पीटकर मार डालने के मामले में चार लोगों को आरोपी बनाया गया है।

तीसरा चार्जशीट 24 फरवरी को मौजपुर क्षेत्र में सीएए विरोधी और सीएए समर्थक प्रदर्शनकारियों के बीच हुई झड़प से जुड़ा है। मामले में शाहरुख पठान मुख्य आरोपी है, जो दंगों के दौरान सोशल मीडिया पर वायरल हुए वीडियो में एक पुलिसकर्मी पर पिस्तौल तानते दिखा था। पुलिस ने कहा कि उसके पास से 7.65 एमएम की अवैध पिस्तौल और दो कारतूस बरामद हुए थे। उसने कई गोलियां चलाईं और घटनास्थल से तीन खाली कारतूस बरामद हुए।

 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Yaspal

Related News

Recommended News