‘केंद्र की नीतियों से दिल्ली के प्रदूषण में आई कमी’

9/11/2019 4:10:41 AM

नई दिल्ली: प्रदेश भाजपा का मानना है कि मोदी सरकार की नीतियों के कारण प्रदूषण में लगातार कमी आई है। दिल्ली सरकार खुद काम न करके केन्द्र सरकार के कामों का श्रेय लेने का खेल खेल रही है, लेकिन केजरीवाल की राजनीति सफल होने वाली नहीं है। प्रदेश भाजपा के अध्यक्ष मनोज तिवारी ने मंगलवार को आयोजित पत्रकार वार्ता में मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल से पूछा कि दिल्ली में प्रदूषण रोकने के लिए आज तक विज्ञापन देने के सिवा क्या काम किया है। दिल्ली की जनता को बताएं।

सोनिया विहार में दिल्ली सरकार द्वारा चलाई जाने वाली दर्जनों प्रदूषण फैलाने वाली फैक्ट्रियां मौजूद हैं लेकिन केजरीवाल ने इन पर कोई कार्रवाई नहीं की। मैंने जब इन्हें बंद करवाया तो केजरीवाल व उनके स्थानीय नेताओं ने मिलीभगत से इन फैक्ट्रियों को दोबारा शुरू करवा दिया। उन्होंने कहा कि दिल्ली में केजरीवाल सरकार ने प्रदूषण कम करने को लेकर 5000 इलैक्ट्रिक बसें खरीदने की बात कही थी लेकिन जमीन पर केवल 25 बसें आई हैं जो कि कलस्टर बसें हैं। 

केन्द्र सरकार के सहयोग से बदरपुर पावर प्लांट को बंद करवाया गया और अनेक प्रदूषणकारी उद्योगों को आदेश देकर उनके प्रदूषण को नियंत्रित करने के लिए उचित कदम उठाये गए। ईंट-भ_े से होने वाले प्रदूषण को रोकने के लिए लेटेस्ट जिग-जैग प्रणाली का उपयोग किया गया, जिससे प्रदूषण की मात्रा में कमी आई है। सबसे अधिक प्रदूषण फैलाने वाले उद्योगों को दंडित भी किया गया। इससे दिल्ली की आबोहवा भी स्वच्छ हुई है। इसका श्रेय मोदी सरकार को जाता है। 


Pardeep

Related News