दिल्ली: वेतन न मिलने के विरोध में हिंदूराव अस्पताल के डॉक्टर अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल पर बैठे

2020-10-23T17:22:43.4

नई दिल्लीः दिल्ली एनडीएमसी मेडिकल कॉलेज और हिंदूराव अस्पताल के रेजिडेंट डॉक्टर्स एसोसिएशन वेतन न मिलने के कारण आज से अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल पर चले गए हैं। बता दें कि वेतन न मिलने के विरोध में उत्तरी निगम के सभी अस्पतालों और डिस्पेंसरी में रविवार से होने वाली हड़ताल को नगर निगम चिकित्सक संघ ने एक सप्ताह के लिए स्थगित कर दिया था।


संघ के पदाधिकारियों ने कहा था कि निगम की ओर से उन्हें जल्द वेतन मिलने का आश्वासन दिया गया है। इस समयावधि में डॉक्टरों का बकाया वेतन नहीं मिला तो संघ इस फैसला पर पुनर्विचार करेगा। नगर निगम चिकित्सक संघ के अध्यक्ष डॉक्टर आरआर गौतम ने बताया था कि संघ के हड़ताल के निर्णय के बाद उत्तरी निगम के महापौर और अन्य पदाधिकारियों ने अस्पतालों के डॉक्टरों के साथ वार्ता की है, जिसमें उन्होंने वेतन की समस्या को जल्द से जल्द सुलझाने का आश्वासन दिया था। निगम के इस आश्वासन और मरीजों को होने वाली परेशानी को देखते हुए रविवार को होने वाली हड़ताल एक सप्ताह के लिए स्थगित कर दिया गया था।

हिंदूराव और कस्तूरबा गांधी में जारी था विरोध
उत्तरी निगम के दो बड़े अस्पताल बाड़ा हिंदूराव और कस्तूरबा गांधी में रेजिडेंट डॉक्टरों की हड़ताल जारी थी। हिंदूराव अस्पताल की आरडीए के अध्यक्ष डॉ. अभिमन्यु ने बताया था कि अस्पताल में पहले की तरह ही काम का बहिष्कार किया गया। इस दौरान किसी भी रेजिडेंट डॉक्टर ने अस्पताल में सेवा नहीं दी। उन्होंने कहा कि जब तक वेतन संबंधी मांग पूरी नहीं होती तब तक हड़ताल जारी रहेगी। डॉक्टर अस्पताल परिसर में धरने पर बैठे रहेंगे। गौरतलब है कि एक सप्ताह से अधिक समय से डॉक्टर बकाया वेतन की मांग को लेकर हड़ताल पर हैं।

 

 


Yaspal

Recommended News