39 बीवियों के पति और 94 बच्चों के पिता की मौत, परिवार और बढ़ाने की आखिरी इच्छा रह गई अधूरी

2021-06-14T13:10:38.827

नेशनल डेस्क:  सबसे बड़े परिवार के मुखिया अब इस दुनिया में नहीं रहे। 76 साल के जियोंघाका उर्फ जियोन-आ की कई दिनाें से बीमार रहने के चलते मौत हो गई। वह एक ही छत में 39 पत्नियां, 94 बच्चे और 33 नाती-पोते के साथ रहते थे। जियोन-आ के परिवार को दुनिया का सबसे बड़ा परिवार माना गया था, उनकी मौत से सभी को बेहद सदमा लगा है

PunjabKesari
जियोन-आ पूरीे परिवार के साथ मिजोरम की खूबसूरत पहाड़ियों के बीच बटवंग गांव में एक बड़े से मकान में रहते थे।  76 साल के जियोंघाका कई दिनों से बीमार चल रहे थे और घर पर ही उनका ईलाज चल रहा था।  हालत बिगड़ने पर उन्हें अस्पताल लाया गया जहां डॉक्टर ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। चाना का पूरा परिवार 100 कमरों वाले 4 मंजिला मकान में उनके साथ ही रहता था। परिवार के पुरुष खेतीबारी और पशुपालन कर घर चलाते हैं तो वहीं खाने बनाने और घर की सफाई की जिम्मेदारी महिलाओं की है।

PunjabKesari
17 साल की उम्र में पहली बार शादी करने वाले चाना  की अपना परिवार और बढ़ाने की इच्छा थी, वह कहते थे कि वे शादी करने के लिए किसी भी हद तक जा सकते हैं। साथ ही चाना खुद को भाग्यशाली मानते थे कि उनके पास इतने सारे लोग हैं जो उनका ख्याल रख सकें। उनके निधन की खबर सुन लोग काफी दुखी है। 

PunjabKesari
इसी के चलते मुख्यमंत्री जोरामथांगा, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष लाल थनहावला, जोराम पीपुल्स मूवमेंट के नेता लालदुहोमा ने जियोन-आ के निधन पर शोक प्रकट किया है। मिजोरम के सीएम ने कहा 'मिजोरम और बक्तावंग तलंगनुम में उनका गांव पर्यटकों के आकर्षण का केंद्र बन गया है, और ये इतने बड़े परिवार के कारण ही हुआ। 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

vasudha

Recommended News