केंद्र की राज्यों को सलाह- जहां कोरोना के ज्यादा केस, वहां लगे 14 दिन का सख्त लॉकडाउन

2021-05-04T10:46:54.177

नेशनल डेस्क: केंद्र सरकार ने कहा कि कुछ राज्यों में कोरोना के मामलों में बढ़ोत्तरी रहना चिंता का विषय है जबकि दिल्ली और महाराष्ट्र समेत कुछ राज्यों में अब पहले के मुकाबले कोरोना मामलों में स्थिरता के ''बहुत प्रारंभिक संकेत'' मिले हैं। कोरोना चेन को तोड़ने के लिए केंद्र और राज्य सरकारें काम कर रही हैं। वहीं केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि जिन इलाकों में संक्रमण ज्यादा है, वहां पर 14 दिन का सख्त लॉकडाउन लगाया जाए, ताकि संक्रमण की कड़ी तोड़ने में मदद मिल सके।

PunjabKesari

केंद्र ने कहा कि राज्य सरकारे उन इलाकों की जानकारी जुटाए जहां पर अब तक कोरोना के सबसे ज्यादा मामले आए हैं। केंद्र ने राज्यों से कहा कि जहां संक्रमण दर 10 फीसदी या उससे अधिक है। इन इलाकों में स्थानीय तौर पर लॉकडाउन लगाया जा सकता है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा, संक्रमण दर अधिक होने के अलावा अगर किसी एक विशेष स्थान पर सबसे ज्यादा मरीज सामने आ रहे हैं या फिर जहां मरीजों की संख्या ज्यादा है तो वहां भी स्थानीय लॉकडाउन लगाया जा सकता है। हालांकि, केंद्र ने साथ ही यह स्पष्ट किया कि पूरे राज्य या जिले में लॉकडाउन की सिफारिश नहीं की जा रही है सिर्फ यह इलाकों पर लागू किया जा सकता हैं।

PunjabKesari

मंत्रालय ने कहा कि राज्य नए सिरे से उन जिलों या स्थान की पहचान करें जहां सबसे ज्यादा मामले मिल रहे हैं। मंत्रालय ने कहा कि 22 ऐसे राज्य हैं जहां कोरोना के 15 फीसदी से ज्यादा मामले हैं जबकि नौ राज्यों में संक्रमण दर 5 से 15 फीसदी और केवल पांच राज्यों में यह पांच फीसदी से कम है। मंत्रालय ने कहा कि विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) 5 फीसदी के संक्रमण दर तक स्थिति आसानी से नियंत्रित की जा सकती है। बता दें कि दिल्ली, महाराष्ट्र, पंजाब, उत्तर प्रदेश, ओडिशा समेत कई राज्यों में लॉकडाउन लगाया गया है। जरूरी सामानों की दुकानों को छोड़कर सभी गैर-जरूरी दुकानों को बंद रखने के निर्देश दिए गए हैं।

PunjabKesari


Content Writer

Seema Sharma

सबसे ज्यादा पढ़े गए

Recommended News

static