नेपाल में पाक दूतावास के सामने प्रदर्शन, विश्व में आंतक फैलाने का आरोप

2020-11-28T17:40:56.61

इंटरनेशनल डेस्कः मुंबई हमले की बरसी पर जहां दुनिया भर में इसके खिलाफ आवाज उठाई गई वहीं भारत के पड़ोसी देश नेपाल में पाकिस्तानी दूतावास  प्रदर्शन किया गया व कैंडल मार्च निकाला गया। प्रदर्शनकारी नारे लगाते हुए पाकिस्तान दूतावास पहंचे। उनके हाथों में आंतकवाद और पाक विरोधी पोस्टर-बैनर थे।  मुंबई हमले की बरसी पर नेपाल के कई जिलों में प्रदर्शन हुए हैं। प्रदर्शन में हजारों लोग शामिल हुए। कई स्थानों पर लोगों ने रास्ता जाम कर दिया था।

 

प्रदर्शनकारियों का आरोप था कि पाकिस्तान आतंकवाद का प्रायोजक है और यहां पर पूरे विश्व में आंतक फैलाने वाले संगठन पनाह लेते हैं। पाकिस्तान के खिलाफ संयुक्त राष्ट्र को कड़ी कार्रवाई करनी चाहिए।  बता दें कि कि मुंबई हमले की बरसी पर दुनियाभर के देशों में कार्यक्रम और पाकिस्तान के खिलाफ प्रदर्शन हुए हैं। अमेरिका और इसराईल  के अधिकांश शहरों में मरने वालों को श्रद्धांजलि दी गई है। 

 

उल्लेखनीय है कि महाराष्ट्र की राजधानी मुंबई में 26 नवंबर 2008 को एक बड़ा आतंकी हमला हुआ था। यह देश में अब तक का सबसे बड़ा हमला था। इस हमले में 166 लोगों की मौत हुई थी और तीन सौ से ज्यादा लोग घायल हुए थे। यह हमला पाकिस्तान के आतंकियों द्वारा किया गया था। पाकिस्तान के कसाब के साथ 10 आतंकी हमला करने आए थे। सुरक्षा बलों ने मुठभेड़ में नौ आतंकियों को मार गिराया था। कसाब जिंदा पकड़ा गया था जो हमले में पाकिस्तान के हाथ को साबित करने में अहम साबित हुआ था। बाद में उसे फांसी दे गई थी। वहीं, इस हमले के पीछे मोस्ट वांटेड आतंकियों में शामिल पाकिस्तान का हाफिज सईद का नाम जुड़ा हुआ है।


Tanuja

Recommended News