सीएए ‘मूल रूप से राष्ट्र विरोधी'', सरकार न करे लागू: थरूर

punjabkesari.in Saturday, Dec 04, 2021 - 12:14 AM (IST)

नई दिल्लीः कांग्रेस के वरिष्ठ नेता शशि थरूर ने संशोधित नागरिकता अधिनियम (सीएए) को शुक्रवार को "मूल रूप से राष्ट्र-विरोधी" करार दिया और सरकार से इसे लागू नहीं करने का आग्रह किया। 

संशोधित नागरिकता कानून में पाकिस्तान, बांग्लादेश और अफगानिस्तान के उत्पीड़ित गैर मुस्लिमों को भारतीय नागरिकता दिये जाने का प्रावधान है। इसे संसद ने 2019 में पारित किया था और इसके विरोध में देश के अलग अलग हिस्सों में प्रदर्शन हुए थे। कांग्रेस नेता ने ट्वीट किया कि तीन कृषि कानूनों को वापस लेने की घोषणा के बाद इस कानून को भी वापस लेने की मांग कुछ वर्ग के बीच उठने लगी है। 

थरूर ने ट्वीट किया, “सीएए मूल रूप से राष्ट्र-विरोधी है और मैं सरकार से इसे लागू नहीं करने का आग्रह करता हूं।” सीएए का विरोध करने वालों का तर्क है कि यह धर्म के आधार पर भेदभाव करता है और संविधान का उल्लंघन करता है। उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि सीएए के साथ-साथ राष्ट्रीय नागरिक पंजी का मकसद भारत में मुस्लिम समुदाय को निशाना बनाना है। 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Pardeep

Related News

Recommended News