19 जुलाई से शुरू होगा संसद का मानसून सत्र, बिरला बोले- कोविड प्रोटोकॉल का होगा पालन

07/12/2021 10:35:21 PM

नई दिल्लीः लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने सोमवार को कहा कि 19 जुलाई से शुरू हो रहे संसद के मानसून सत्र के दौरान कोविड संबंधी सभी दिशानिर्देशों (प्रोटोकॉल) का पालन किया जाएगा। उन्होंने कहा कि जिन लोगों का कोरोना वायरस रोधी टीकाकरण नहीं हुआ है उन्हें सत्र के दौरान संसद परिसर में प्रवेश से पहले आरटी-पीसीआर जांच करवाने को कहा जाएगा।

संसद भवन परिसर में एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए बिरला ने कहा कि 323 सांसदों का कोविड रोधी पूर्ण टीकाकरण हो चुका है जबकि 23 सांसद कुछ चिकित्सीय कारणों के चलते टीके की पहली खुराक भी नहीं ले पाए हैं। लोकसभा अध्यक्ष ने कहा कि दोनों सदनों की बैठक 11 बजे एक ही समय पर शुरू होगी।

लोकसभा अध्यक्ष ने सत्र के दौरान कोविड संबंधी व्यवस्थाओं पर जोर देते हुए कहा कि सांसदों, अधिकारियों, मीडियाकर्मियों और अन्य लोगों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए पर्याप्त उपाय किए गए हैं। उन्होंने कहा कि जिन लोगों को कोविड टीके की कम से कम एक खुराक लगी है, उन्हें आरटी-पीसीआर जांच कराने की आवश्यकता नहीं होगी। उन्होंने कहा कि आरटी-पीसीआर जांच की सुविधा संसद भवन परिसर में उपलब्ध होगी।

बिरला ने यह भी कहा कि 411 सदस्यों ने टीके की कम से कम एक खुराक ली है और बाकी सदस्यों का चिकित्सा आधार पर टीका लगाया जाना बाकी है। लोकसभा सचिवालय के अधिकारियों को भी टीके लगाए गए हैं। उन्होंने कहा कि कोविड-19 के मद्देनजर लगाए गए प्रतिबंधों के कारण संसद के मानसून सत्र के दौरान आगंतुकों को अनुमति नहीं होगी।

संसदीय कार्य के डिजिटलीकरण के संबंध में ताजा पहल को साझा करते हुए बिरला ने कहा कि सांसदों के लिए एक ऐप तैयार किया जा रहा है। नए संसद भवन के बारे में उन्होंने कहा कि इसे समय पर पूरा किया जाएगा। संसद का मानसून सत्र 19 जुलाई से शुरू हो रहा है और यह 13 अगस्त तक चलेगा। आमतौर पर जुलाई में शुरू होने वाला मानसून सत्र वैश्विक महामारी कोरोना वायरस के कारण पिछले वर्ष सितंबर में आरंभ हुआ था। 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Yaspal

Related News

Recommended News