त्रिपुरा में बॉर्डर पर घुसपैठ करते पकड़ा गया बांग्लादेशी नाबालिग, क्यों घुस रहा था भारत में...वजह जान रह जाएंगे हैरान

punjabkesari.in Monday, Apr 18, 2022 - 12:43 PM (IST)

नेशनल डेस्क: त्रिपुरा के सिपाहीजाला जिले से एक अजीबोगरीब मामला सामने आया है। यहां पर सीमा सुरक्षा बल (BSF) ने एक नाबालिग बच्चे को पकड़ा है जिसपर सीमा पार कर भारत में बिना कोई कागजात घुस आने का आरोप है। बताया जा रहा है कि बच्चा अपनी पसंदीदा चॉकलेट बार खरीदने के लिए गौर-कानूनी तरीकों से भारत में घुसा था। जानकारी के अनुसार, नाबालिग ने यह पहली बार नहीं की है, इससे पहले भी वह कई बार भारत में अवैध तरीके से घुसा है। बच्चे का नाम एनाम हुसैन बताया जा रहा है और वह बांग्लादेश के कोमिला जिले का रहने वाला है। भारत के दुकानदारों ने कहा कि एनाम हुसैन के अलावा कई और लड़के और बच्चियां भी हैं जो बांग्लादेश से भारत गैर-कानूनी तरीके से आते हैं। 

 

ऐसे घुसता था भारत
बांग्लादेशी नाबालिग एनाम हुसैन हरदम भारत आता था और अपना पसंदीदा चॉकलेट बार को खरीद कर वापस अपने देश चला जाता था। आखिरी बार जब वह भारत में घुसपैठ कर रहा था तो उसे रंगेहाथ BSF के जवानों ने पकड़ लिया था। इसके बाद उसे लोकल पुलिस के हवाले कर दिया गया था जिसे बाद में कोर्ट में पेश किया गया था। पुलिस के पूछताछ के दौरान बांग्लादेशी नाबालिग ने यह कबूला था कि वह नदी को पार कर एक पतले छेद की मदद से भारत में घुसता था और त्रिपुरा के कलामचौरा गांव की एक दुकान से अपना फेवरेट चॉकलेट बार को खरीदता था।

 

फेवरेट चॉकलेट खरीदने आता था नाबालिग
सोनमुरा के SDPO बनोज बिप्लब दास के मुताबिक, नाबालिग ने भारत में घुसपैठ की बात कबूली और उसके पास से 100 बांग्लादेशी टाका भी मिला है। पुलिस को उसके पास से कुछ और नहीं मिला है और उसकी गिरफ्तारी भारत में अवैध तरीके से घुसने पर हुई है। उन्होंने यह भी बताया कि उसे 15 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है। बता दें कि अभी तक नाबालिग के परिवार वालों द्वारा उनकी बेटे के लिए BSF से कोई संपर्क नहीं किया गया है। 

 

इस पर कलामचौरा निवासी एलियस हुसैन ने कहा कि बांग्लादेशी अक्सर यहां से किराने के सामान को खरीदने के लिए आते रहते हैं। यही नहीं कोई प्रोग्राम में भी शामिल होने के लिए वे यहां आते हैं। ऐसे में BSF उन्हें मानवीय आधार कुछ नहीं बोलती है। BSF केवल तस्करों के लिए सख्ती दिखाती है। नाबालिग के बारे में बोलते हुए उन्होंने कहा कि जहां तक उन्हें पता है वह केवल अपना पसंदीदा चॉकलेट बार खरीदने के लिए भारत आता था। इलाके के अन्य दुकानदारों ने पुलिस को यह भी बताया कि नाबालिग के अलावा कुछ और बच्चे और एक बच्ची भी आती है जो चॉकलेट बार को लेकर अपने देश वापस चली जाती है।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Seema Sharma

Related News

Recommended News