कन्‍हैयालाल आज जिंदा होता अगर...ओवैसी का प्रधानमंत्री पर हमला बोले- PM मोदी कब तक नुपूर शर्मा को बचाएंगे?

punjabkesari.in Friday, Jul 01, 2022 - 04:19 PM (IST)

नई दिल्‍ली: उदयपुर में कन्‍हैयालाल की हत्‍या के बाद नुपूर शर्मा के बयान को लेकर सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर AIMIM चीफ असदुद्दीन ओवैसी ने एक बार फिर से सरकार पर हमला बोला। उन्होंने कहा कि क्या देश के प्रधानमंत्री अभी भी कोई प्रतिक्रिया नहीं देंगे? प्रधानमंत्री को समझना चाहिए कि किसी को सस्पेंड कर देना कोई सजा नहीं होती। आप सिर्फ नुपूर शर्मा के प्रधानमंत्री नहीं हैं। आप देश की 133 करोड़ की जनता के प्रधानमंत्री हैं जिसमें 20 करोड़ के करीब मुसलमान भी रहते हैं। आप (PM) कब तक नुपूर शर्मा को बचाएंगे?

वहीं  ओवैसी ने उदयपुर में कन्‍हैयालाल की हत्‍या के लिए राजस्‍थान सरकार को जिम्‍मेदार ठहराया। उन्होंने कहा कि कन्‍हैयालाल ने तो कम्‍प्‍लेंट दी थी कि उसकी जान को खतरा है। ये राजस्‍थान की सरकार की गलती है। उनको प्रोटेक्‍शन देनी चाहिए थी।।

 AIMIM चीफ ने  कहा कि कन्‍हैयालाल आज जिंदा होते अगर राजस्‍थान की पुलिस हरकत करती। उसे जो धमकी आई, उसपर एक्‍ट करती। नूपुर शर्मा को भी जो धमकियां दी जा रही हैं, वो गलत हैं।  औवेसी ने कहा कि 'रेडिकलाइजेशन को कंट्रोल करना है तो रूल ऑफ लॉ को सुप्रीम बनाइए। ओवैसी ने कहा कि अगर जुबैर 2018 में ट्वीट करता है और 2021 का ट्विटर हैंडल कम्‍प्‍लेन करता है जो आज गायब हो चुका है तो जुबैर गिरफ्तार हो जाएगा। नूपुर शर्मा आसमान से आईं हैं क्‍या? ओवैसी ने कहा कि 'अगर जुबैर की गिरफ्तारी सही है तो सेंट्रल बोर्ड जिसने पिक्‍चर को पास किया था, उन सबको गिरफ्तार करना चाहिए। 
 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Anu Malhotra

Related News

Recommended News