कोरोना की दूसरी लहर:टूटे अब तक के सारे रिकॉर्ड, 24 घंटे में 1.15 लाख नए केस...अगले 4 हफ्ते जोखिम भरे

2021-04-07T12:15:18.12

नेशनल डेस्क: कोरोना की बढ़ती रफ्तार ने चिंता बढ़ा दी है। देश में कोरोना की दूसरी लहर चल रही है इससे इनकार नहीं किया जा सकता। भारत में कोरोना ने सारे रिकॉर्ड तोड़ दिए हैं। देश में पिछले 24 घंटे में कोरोना के 1.15 लाख से ज्यादा नए मामले सामने आए हैं और यह वायरस फैलने की शुरुआत होने के बाद से अब तक एक दिन में आने वाले सबसे ज्यादा मामले हैं। देश में संक्रमितों की कुल संख्या बढ़कर 1,28,01,785 हो गई है।

PunjabKesari

स्वास्थ्य मंत्रालय ने बुधवार को बताया कि तीन दिन में दूसरी बार ऐसा हुआ है, जब कोराना वायरस संक्रमण के एक दिन में एक लाख से ज्यादा मामले सामने आए हैं। मंत्रालय द्वारा जारी आंकड़ों के मुताबिक, पिछले 24 घंटे में 1,15,736 मामले सामने आए तथा 630 और मरीजों की मौत हो जाने से मृतकों की संख्या बढ़कर 1,66,177 हो गई। देश में लगातार 28वें दिन संक्रमण के मामलों में बढ़ोतरी होने से उपचाराधीन मरीजों की संख्या भी बढ़कर 8,43,473 हो गई है जो कि संक्रमण के कुल मामलों का 6.59 प्रतिशत है। वहीं, लोगों के स्वस्थ होने की दर भी गिरकर 92.11 प्रतिशत हो गई है। 

PunjabKesari

देश में कब-कब बढ़े मामले
देश में पिछले साल 7 अगस्त को संक्रमितों की संख्या 20 लाख, 23 अगस्त को 30 लाख और पांच सितंबर को 40 लाख से अधिक हो गई थी। संक्रमण के कुल मामले 16 सितंबर को 50 लाख, 28 सितम्बर को 60 लाख, 11 अक्तूबर को 70 लाख, 29 अक्तूबर को 80 लाख, 20 नवंबर को 90 लाख रहे और 19 दिसंबर को ये मामले एक करोड़ के पार चले गए थे। भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (ICMR) के अनुसार, देश में 6 अप्रैल तक 25,14,39,598 नमूनों की covid-19 संबंधी जांच की गई। इनमें से 12,08,339 नमूनों की जांच मंगलवार को की गई। स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि अब तक जिन लोगों की मौत हुई है, उनमें से 70 प्रतिशत से ज्यादा मरीजों को अन्य बीमारियां भी थीं। मंत्रालय ने अपनी वेबसाइट पर बताया कि उसके आंकड़ों का ICMR के आंकड़ों के साथ मिलान किया जा रहा है। 

PunjabKesari

गुजरात में 20 शहरों में नाइट कर्फ्यू
कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए गुजरात में 20 शहरों में नाइट कर्फ्यू लगा दिया गया है। 20 शहरों के साथ ही अहमदाबाद, सूरत, वडोदरा, राजकोट और गांधी जैसे आठ नगर निगमों में भी नाइट कर्फ्यू रहेगा जोकि 30 अप्रैल तक रात 8 बजे से सुबह 6 बजे तक प्रभावी होगा। इतना ही नहीं कई बड़े कार्यक्रमों को भी 30 अप्रैल तक रद्द कर दिया गया है। शादी के कार्यक्रम में सिर्फ 100 लोगों को शामिल होने की इजाजत होगी। मंगलवार को ही कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए गुजरात हाईकोर्ट ने राज्य में लॉकडाउन की बात कही। मंगलवार को एक याचिका पर सुनवाई करते हुए हाईकोर्ट ने कहा कि गुजरात में लॉकडाउन की सख्त जरूरत है। राज्य में 3 से 4 दिन तक कर्फ्यू लगाना चाहिए या वीकेंड कर्फ्यू होना जरूरी है।

PunjabKesari

दिल्ली में भी नाइट कर्फ्यू
दिल्ली सरकार ने 30 अप्रैल तक रात 10 बजे से सुबह 5 बजे तक नाइट कर्फ्यू का ऐलान किया है। नाइट कर्फ्यू के दौरान राशन, किराना, फल, सब्जी, दूध, दवा से जुड़े दुकानदारों को ई-पास के जरिए ही आने-जाने की छूट होगी। प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया को भी ई-पास के जरिए ही मूवमेंट की इजाजत होगी। प्राइवेट डॉक्टर, नर्स, पैरामेडिकल स्टाफ को भी आईडी कार्ड दिखाने पर छूट मिलेगी। एयरपोर्ट, रेलवे स्टेशन और बस अड्डे आने-जाने वाले यात्रियों को वैध टिकट दिखाने पर छूट दी जाएगी। गर्भवती महिलाओं और जिन मरीजों का इलाज चल रहा है उनको आने-जाने की छूट मिलेगी। पब्लिक ट्रांसपोर्ट जैसे बस, दिल्ली मेट्रो, ऑटो, टैक्सी आदि को तय समय के दौरान उन्हीं लोगों को लाने ले जाने की इजाजत होगी जिनको नाइट कर्फ्यू के दौरान छूट दी गई है।

PunjabKesari

आने वाले 4 हफ्ते देश के लिए काफी जोखिम भरे
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि कोरोना बहुत तेजसे फैल रहा है। कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए आने वाले 4 हफ्ते देश के लिए काफी जोखिम भरे रहेंगे। मंत्रालय का अनुमान है कि अप्रैल के बाद हालात में कुछ सुधार संभव है। फिलहाल, देश के 10 जिलों में कोरोना के मामले तेजी से बढ़ते दिख रहे हैं। इन जिलों में 7 जिले महाराष्ट्र, एक-एक जिला पंजाब, दिल्ली और छत्तीसगढ़ से है।  मंत्रालय ने कहा कि कोरोना की दूसरी लहर पर काबू पाया जा सकता है। लोगों को अब ज्यादा सावधानी बरतनी चाहिए क्योंकि नए मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। इसी बीच, केंद्र सरकार ने 45 साल और इससे अधिक उम्र के अपने सभी कर्मचारियों को कोविड रोधी टीका लगवाने के लिए कहा है।

PunjabKesari


Content Writer

Seema Sharma

सबसे ज्यादा पढ़े गए

Recommended News

static