निर्यातकों की मदद के लिए विनिमय दर जैसे मुद्दों पर बैंकों को अधिक उदार होना चाहिए: गोयल

09/24/2021 12:44:07 AM

मुंबई 23 सितंबर (भाषा) केंद्रीय वाणिज्य मंत्री पीयूष गोयल ने बृहस्पतिवार को कहा कि बैंकरों को निर्यातक वर्ग की मदद के लिए विनिमय दर जैसे मुद्दों पर ''अधिक उदार'' होना चाहिए।

उन्होंने दंडात्मक ब्याज दरों के मुद्दे पर एक समान उदार दृष्टिकोण अपनाने के लिये कहा। उन्होंने कहा कि कोविड-19 महामारी के कारण विदेशी बाजारों से भुगतान प्रभावित हुआ है।
गोयल ने यहां एक्जिम बैंक द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा, ‘‘विनिमय दर जैसे मुद्दों पर मुझे लगता है कि बैंकों को थोड़ा और उदार होने की जरूरत है। बैंक दो पैसे का लाभ दे सकते हैं।’’
वही गोयल ने सांताक्रूज इलेक्ट्रॉनिक एक्सपोर्ट प्रोसेसिंग जोन, (सीप्ज) मुंबई में निर्यातकों के साथ बातचीत में कहा कि वाणिज्य मंत्रालय विशेष आर्थिक क्षेत्रों (एसईजेड) के मानदंडों को आसान बनाने और इकाइयों के लिए इन क्षेत्रों से बाहर निकलने को आसान बनाने की कोशिश कर रहा है।

उन्होंने कहा कि मंत्रालय मौजूदा एसईजेड की आंशिक रूप से मान्यता रद्द करने के तरीकों पर भी विचार कर रहा है ताकि जिन क्षेत्रों में अधिक मांग नहीं है, उनका उपयोग औद्योगिक या अन्य उद्देश्यों के लिए किया जा सके।

निर्यातकों के साथ बातचीत में केंद्रीय मंत्री ने यह भी कहा कि निर्यातकों द्वारा उठाए गए विभिन्न मुद्दों पर सरकार विचार कर रही है।

उन्होंने उदाहरण देते हुए कहा कि वाणिज्य मंत्रालय, वित्त मंत्रालय के साथ 800 डॉलर तक के कृत्रिम आभूषणों के लिए ई-कॉमर्स को निर्बाध रूप से अनुमति देने और पुराने सामानों के मूल्यह्रास के मुद्दों पर भी चर्चा कर रहा है।

यह आर्टिकल पंजाब केसरी टीम द्वारा संपादित नहीं है, इसे एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड किया गया है।

सबसे ज्यादा पढ़े गए

PTI News Agency

Recommended News