ट्रंप को बैन करने का ट्वीटर को अफसोस! CEO जैक डोर्सी बोले- मुझे इस बात का गर्व नहीं

2021-01-14T15:59:44.757

इंटनेशनल डेस्क: अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के निजी ट्विटर अकाउंट पर रोक लगाने के बाद पहली बार कंपनी की प्रतिक्रिया सामने आई है। ट्विटर के सीईओ जैक डोर्सी ने इस मामले में चुप्पी तोड़ते हुए कहा कि उन्हे इस फैसले पर गर्व तो नहीं है लेकिन यह गलत भी नहीं है। जैक डोर्सी ने अपनी मजबूरियां जाहिर करते हुए आगाह किया कि यह एक खतरनाक उदाहरण पेश कर सकता है।

PunjabKesari

मुश्किल परिस्थितियाें में उठाया ये फैसला: जैक डोर्सी
डोर्सी ने कहा कि यह प्रतिबंध "वैश्विक सार्वजनिक बातचीत" के लिए एक खुली और स्वस्थ जगह बनाने में ट्विटर की "विफलता" को दिखाता है। उन्होंने  कंपनी का बचाव करते हुए कहा कि हमारे सामने असामान्य और मुश्किल परिस्थितियां थीं जिसकी वजह से हमें अपना पूरा ध्यान लोगों की सुरक्षा पर केंद्रित करना पड़ा। यह निर्णय सुरक्षा के लिहाज से बहुत सोच-समझ कर लिया गया था। इस कार्रवाई से पहले ट्रंप को चेतावनी दी गई थी।  

PunjabKesari
अकाउंट पर रोक लगाना ट्विटर की असफलता भी: जैक डोर्सी
 जैक डोर्सी ने कहा कि ट्रंप के अकाउंट पर रोक लगाना एक तरह से ट्विटर की असफलता भी है। क्योंकि हम इस प्लैटफॉर्म पर स्वस्थ संवाद को बढ़ावा देने के लिए  पर्याप्त कदम नहीं उठा सके। उन्होंने कहा कि  यह एक माइक्रोब्लॉगिंग साइट की विफलता है, लेकिन मजबूरन हमें यह फैसला लेना पड़ा है। ये बेहद ज़रूरी हो गया था और हम वाशिंगटन में हिंसा को और फैलने नहीं दे सकते थे।  

PunjabKesari
ट्विटर ने ट्रंप के निजी अकाउंट पर लगाई रोक 
दरअसल  ट्विटर ने अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप का निजी अकाउंड स्थायी रूप से बंद कर दिया है। इसके बाद ट्रंप ने माइक्रोब्लॉगिंग साइट पर जमकर हमला बोला था। उन्होंने कंपनी के खिलाफ डेमोक्रैट्स और लेफ्ट खेमे के साथ मिलकर फ्री स्पीच को खत्म करने की कोशिश का आरोप लगाते हुए कहा था कि जल्द ही अपना नया प्लैटफॉर्म तैयार करने के बारे में सोच रहे हैं। हालांकि, ये सभी ट्वीट कुछ ही मिनटों में डिलीट कर दिए गए।
 


vasudha

Recommended News