चीन के हमले के डर से ताइवान ने बढ़ाई सुरक्षा, किया युद्धाभ्यास

2021-01-20T13:33:55.323

इंटरनेशनल डेस्कः  चीन के हमले के डर से ताइवान ने  जहां अपनी सुरक्षा व्यवस्था को बढ़ा दिया है वहीं सेना का युद्धाभ्यास भी  शुरू किया है। ताइवान के मेजर जनरल चेन चोंग जी बताया कि ताइपे के दक्षिण स्थित सेना के हुको बेस पर यह युद्धाभ्यास चल रहा है।  युद्धाभ्यास में टैंक, मोर्टार और छोटे हथियारों का इस्तेमाल किया जा  रहा है। 

 

उन्होंने कहा कि हमें यह मतलब नहीं है कि ताइवान की जलसंधि में क्या चल रहा है, लेकिन हम अपने द्वीप और इसकी जमीन की सुरक्षा जरूर करेंगे।  उन्होंने कहा कि सेना का युद्धाभ्यास यह बताने के लिए है कि हम अपनी सुरक्षा के प्रति कितने गंभीर हैं। ज्ञात हो कि ताइवान की राष्ट्रपति साइ इंग वेन पहले ही कह चुकी हैं कि ताइवान की सुरक्षा से कोई समझौता नहीं किया जाएगा।

 

इसके लिए उन्होंने अमेरिका से बड़ा रक्षा समझौता भी किया है, जिसके तहत उसे एफ-16 विमान, हथियारयुक्त ड्रोन, रॉकेट सिस्टम, हार्पून मिसाइल उपलब्ध कराए हैं। उन्होंने चीन का मुकाबला करने के लिए ताइवान की सैन्य उत्पादन करने वाली इंडस्ट्री और पनडुब्बियों के निर्माण का कार्य भी तेज किया है। ताइवान को लगातार चीन की धमकियों के देखते हुए ताइवान इस तरह की तैयारी कर रहा है।


Content Writer

Tanuja

सबसे ज्यादा पढ़े गए

Recommended News