तुम पर नाज है ''सना'': पाकिस्तान को मिली पहली हिंदू सिविल सेवक...इतिहास में पहली बार ऐसा

09/21/2021 2:21:08 PM

इंटरनेशनल डेस्क: पाकिस्तान के इतिहास में पहली बार प्रशासनिक सेवा में किसी हिंदू लड़की का चयन हुआ है। शिकारपुर की रहने वाली सना रामचंद गुलवानी पर हर कोई नाज कर रहा है। सना पहली हिंदू लड़की होगी जो पाकिस्तान में प्रशासनिक सेवाएं देगी। 27 साल की सना ने पहले प्रयास में ही पाकिस्तान की सबसे कठिन माने जाने वाली परीक्षा सेंट्रल सुपीरियर सर्विसेस (CSS) को पास किया है। पाकिस्तान की परीक्षा CSS भारत में होने वाले सिविल सर्विसेस एग्जाम की तरह ही है, जिसके बाद अभ्यर्थी चयनित होकर प्रशासनिक सेवाओं में जाता है।

 

मई में पास की थी परीक्षा
सना ने CSS की परीक्षा मई में ही पास कर ली थी लेकिन उसकी नियुक्ति पर सितंबर में मुहर लगी है। भारत से अलग होने के बाद अब तक पाकिस्तान में कोई हिंदू लड़की प्रशासनिक सेवाओं में नहीं रही है। सना इससे पहले पाकिस्तान में एक सर्जन की तरह काम कर रही थी। मेडिकल से अपनी पढ़ाई करने वाली सना गुलवानी ने बताया कि उनके माता-पिता कभी नहीं चाहते थे कि मैं प्रशासनिक सेवा में जाऊं। माता-पिता चाहते थे कि मैं मेडिकल क्षेत्र में सेवाएं दूं। इसलिए मैंने पहले पैरेंट्स के टारगेट को पूरा किया। इसके बाद अपने टारगेट पर फोकस किया और मेहनत रंग लाई।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Seema Sharma

Recommended News