पाकिस्तान के प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ ने इमरान खान को ‘देश का सबसे बड़ा झूठा’ बताया

punjabkesari.in Thursday, Oct 06, 2022 - 10:27 PM (IST)

इस्लामाबाद, छह अक्टूबर (भाषा) पाकिस्तान के प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ ने बृहस्पतिवार को अपने पूर्ववर्ती इमरान खान पर तीखा हमला करते हुए उन्हें ‘सबसे बड़ा धोखेबाज’ और ‘देश का सबसे बड़ा झूठा’ करार दिया। हालांकि, इमरान ने ऑडियो लीक विवाद में अपनी सरकार की संलिप्तता का जोरदार तरीके से खंडन किया है।

कथित तौर पर खान का एक लीक ऑडियो टेप पिछले महीने सामने आया था जिसमें वह इस बारे में बात कर रहे हैं कि अप्रैल में उन्हें सत्ता से हटाए जाने को एक साजिश के रूप में चित्रित करने के लिए विवादास्पद कूट लेख का फायदा कैसे उठाया जाए।

सोशल मीडिया पर प्रसारित हो रही एक ऑडियो क्लिप में खान और उनके तत्कालीन प्रधान सचिव आजम खान के बीच संवाद है जिसमें वाशिंगटन में पाकिस्तानी राजदूत असद मजीद के एक कूट लेख पर चर्चा हो रही है जो उन्होंने (मजीद ने) अमेरिकी अधिकारियों के साथ उनकी बैठक के बारे में भेजा था।

खान का एक और ऑडियो जारी हुआ है, जिसमें पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) के अध्यक्ष की असद उमर, शाह महमूद कुरैशी और आजम खान सहित अपनी पार्टी के नेताओं के साथ बातचीत को पाकिस्तानी राजदूत से प्राप्त कूट लेख के बारे में बात करते हुए सुना जा सकता है।

शरीफ ने कहा कि वह ‘‘देश के सबसे बड़े झूठे’’ (इमरान) के खिलाफ ‘‘देश को संवेदनशील बनाने’’ के लिए संवाददाता सम्मेलन करने जा रहे हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि खान अपने व्यक्तिगत लाभ के लिए देश को भी कुर्बान कर सकते हैं।

उन्होंने कहा, ‘‘मैं आज आखिर में यह कह रहा हूं कि पूरे विपक्ष को ईश्वर ने सही ठहराया है, और इमरान खान - जो दिन-रात झूठ बोलते हैं - एक धोखेबाज हैं, उन्होंने देश को अलग-थलग कर दिया है और उसके साथ खेला है।’’ कथित तौर पर खान और उनके सहयोगियों की आवाज वाले ऑडियो लीक पर शरीफ ने कहा, ‘‘उन्हें यह कहते हुए सुना जा सकता है कि यह एक खेल था […] वे देश के भरोसे के साथ खेले। देश की इज्जत को इस तरह से ठेस पहुंचाई गई कि इतिहास में ऐसा कोई उदाहरण नहीं मिलता [...] यह देशद्रोह से कम नहीं है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘मैं आप सभी से पूछ रहा हूं, क्या अब भी कोई शक है कि साजिश के पीछे कौन था?’’ शरीफ के नेतृत्व वाली सरकार ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री आवास से इस ऑडियो लीक की जांच के लिए एक शीर्ष समिति का गठन किया था।



यह आर्टिकल पंजाब केसरी टीम द्वारा संपादित नहीं है, इसे एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड किया गया है।

सबसे ज्यादा पढ़े गए

PTI News Agency

Related News

Recommended News