भारत के पक्ष में आर्थिक लय, कोविड से पार पाने की जरूरत: डेलॉयट के सीईओ

punjabkesari.in Thursday, Jan 20, 2022 - 09:40 AM (IST)

वाशिंगटन, 20 जनवरी (भाषा) डेलॉयट के सीईओ पुनीत रंजन ने कहा है कि भारत को विदेशी निवेश के लिहाज से आकर्षक स्थान होने के माहौल को बनाए रखना चाहिये और यह भी सुनिश्चित करना चाहिए कि कोविड के खिलाफ उसकी लड़ाई में उसे सफलता मिले। उन्होंने कहा कि आर्थिक लय भारत के पक्ष में है।

रंजन ने ''पीटीआई-भाषा'' को दिये साक्षात्कार में कहा कि भारत 2022 में तेजी से आगे बढ़ने वाली बड़ी अर्थव्यवस्था होगी और इसकी वृद्धि दर आठ और नौ प्रतिशत के बीच रहने की संभावना है। उन्होंने कहा, ''''यह शताब्दी भारत के नाम रहने वाली है।'''' उन्होंने कोरोना वायरस से तत्काल निजात पाने की जरूरत पर जोर देते हुए कहा कि महामारी आर्थिक विकास के मामले में एक रोड़ा है।

डेलॉयट के सीईओ ने कहा, ''''पहली चीज जो हमें करने की जरूरत है वह यह सुनिश्चित करना है कि हम इस वायरस पर विजय प्राप्त करें... यह सुनिश्चित करने के लिए कि भारत में प्रत्यक्ष विदेशी निवेश और विभिन्न उद्योगों के लिए एक बहुत ही आकर्षक वातावरण है, जिस तरह से सरकार ध्यान केंद्रित कर रही है, उस गति को बनाए रखने की आवश्यकता है।’’ रंजन ने कहा, ''''मेरा मानना है कि लय भारत के पक्ष में है और हमें इसका लाभ उठना चाहिये।'''' उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस के ओमीक्रोन स्वरूप का निश्चित रूप से सभी पर प्रभाव पड़ेगा। यह आपूर्ति श्रृंखलाओं और भारत सहित वैश्विक अर्थव्यवस्था को प्रभावित करेगा।

रंजन ने कहा, ''''लेकिन मुझे विश्वास है कि भारत बड़ी अर्थव्यवस्थाओं के विकास के मामले में दूसरों का नेतृत्व करेगा। मुझे उम्मीद है कि अगले 10 वर्षों में भारत 6-7 हजार अरब अमेरिकी डॉलर की अर्थव्यवस्था बन जाएगा और आकार के मामले में तीसरे नंबर पर पहुंच जाएगा।''''

यह आर्टिकल पंजाब केसरी टीम द्वारा संपादित नहीं है, इसे एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड किया गया है।

सबसे ज्यादा पढ़े गए

PTI News Agency

Related News

Recommended News