पाक सेना ने ले. जनरल अंजुम को बनाया ISI का नया चीफ, बलूचों के खून से सने हैं नए प्रमुख के हाथ

punjabkesari.in Thursday, Oct 07, 2021 - 10:36 AM (IST)

इस्लामाबादः पाकिस्तानी सेना ने चौंकाने वाली एक घोषणा करते हुए बुधवार को कहा कि शक्तिशाली खुफिया एजेंसी ISI के प्रमुख लेफ्टिनेंट जनरल फैज हमीद को  हटाकर उनकी जगह लेफ्टिनेंट जनरल नदीम अंजुम को नया चीफ नियुक्त किया है।  हमीद को अब  पेशावर कोर का कमांडर बनाया गया है।   लेफ्टिनेंट जनरल फैज का यह तबादला ऐसे समय पर किया गया है जब उनका पिछले दिनों काबुल दौरा पूरी दुनिया में विवादों में आ गया था। पड़ोसी देश अफगानिस्तान पर तालिबान के कब्जे के मद्देनजर इसे महत्वपूर्ण पद माना जा रहा है। पाकिस्तानी सेना के मीडिया प्रकोष्ठ इंटर-सर्विसेज पब्लिक रिलेशंस (ISPR ) ने कहा कि लेफ्टिनेंट जनरल नदीम अंजुम को लेफ्टिनेंट जनरल हमीद के स्थान पर इंटर-सर्विसेज इंटेलिजेंस (ISI) का नया महानिदेशक नियुक्त किया गया है।

 

PunjabKesari

ISI प्रमुख की नियुक्ति प्रधानमंत्री द्वारा की जाती है, लेकिन परंपरा के अनुसार प्रधानमंत्री पाकिस्तान के सेना प्रमुख की सलाह से इस शक्ति को उपयोग करते हैं। ISI प्रमुख का पद पाकिस्तानी सेना में सबसे महत्वपूर्ण पदों में से एक माना जाता है। सेना ने देश के करीब 73 साल के इतिहास में आधे से अधिक समय तक देश पर शासन किया है। शुरू में सेना ने एक आधिकारिक बयान में कहा था कि लेफ्टिनेंट जनरल हमीद को अन्यत्र नियुक्त किया गया है लेकिन उनके स्थान पर ISI प्रमुख के पद पर किसी नियुक्ति की तत्काल घोषणा नहीं की थी। दरअसल  पाकिस्‍तान में किसकी सरकार बनेगी, इसमें ISI की भूमिका काफी अहम होती है। यही वजह है कि प्रत्‍येक राजनीतिक दल की कोशिश रहती है कि ISI को मिलाकर रखा जाए।

 

PunjabKesari
 
 कौन हैं लेफ्टिनेंट जनरल नदीम अंजुम ?

  • लेफ्टिनेंट जनरल अंजुम ने अपना ग्रैजुएशन ब्रिटेन के रॉयल कॉलेज ऑफ डिफेंस स्‍टडी से किया है।
  • उनके पास अमेरिका के होनोलूलू स्थित एशिया पैशफिक सेंटर से भी पढ़ाई की है।
  • पाकिस्तानी सेना की पंजाब रेजिमेंट से हैं ।
  • वह कराची कोर कमांडर के साथ ही कमांड एंड स्टाफ कॉलेज क्वेटा के कमांडेंट के रूप में भी काम कर चुके हैं। 
  • अंजुम ने पाकिस्‍तान के अशांत बलूचिस्‍तान प्रांत में कई अभियान चलाए हैं  और उन पर बलूचों पर अत्याचार के आरोप हैं।
  • कहा जाता है कि उनके हाथ निर्दोष बलूचों के खून से सने हैं।
  • कई बलूच परिवारों ने आरोप लगाया है कि पाकिस्‍तानी सेना उनके जवान बच्‍चों को उठा ले जाती है।
  • कहा जाता है कि नदीम को युद्ध का काफी अनुभव है।
  • इससे पहले लेफ्टिनेंट जनरल नदीम पाकिस्‍तान के फ्रंटियर कोर बलूचिस्‍तान के महानिदेशक रह चुके हैं।
  • नदीम के अधीनस्‍थ अधिकारी उन्‍हें तेज दिमाग वाला और काम में व्‍यस्‍त रहने वाला मानते हैं।
  • ISI के नए चीफ अच्‍छे श्रोता हैं और बहुत कम बोलते हैं।
  •  नदीम भारत से लगी LoC पर भी कमांड कर चुके हैं।

PunjabKesari

जनरल कमर बाजवा के करीबी थे फैज हमीद
ISI  के पूर्व चीफ रहे फैज हमीद को 16 जून, 2019 को एजेंसी का प्रमुख नियुक्त किया गया था। उससे पहले उन्होंने ISI में आंतरिक सुरक्षा के प्रमुख के रूप में काम किया था। हमीद को सेना प्रमुख जनरल कमर बाजवा का करीबी माना जाता है और उन्हें ऐसे महत्वपूर्ण समय मेंISI प्रमुख नियुक्त किया गया था जब कई बाहरी और आंतरिक सुरक्षा चुनौतियां थीं। उन्होंने सितंबर में काबुल का दौरा किया था और मीडिया के साथ एक संक्षिप्त बातचीत में कहा था कि अफगानिस्तान में 'सब कुछ ठीक हो जाएगा।'

लेफ्टिनेंट जनरल फैज ने यह बयान उस समय दिया था जब सरकार की घोषणा में देरी के कारण तालिबान अधिकारियों के बीच मतभेदों की अफवाहें थीं। सेना ने एक आधिकारिक बयान में वरिष्ठ स्तर पर दो और नियुक्तियों की भी घोषणा की। इसमें कहा गया है कि लेफ्टिनेंट जनरल मोहम्मद आमिर को गुजरांवाला कोर का कमांडर नियुक्त किया गया है जबकि लेफ्टिनेंट जनरल असीम मुनीर को सेना का क्वार्टर मास्टर जनरल (क्यूएमजी) नियुक्त किया गया है।

 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Tanuja

Related News

Recommended News