See More

न्यूजीलैंड में दूसरे दिन कोरोना का कोई नया मामला नहीं, सिंगापुर में 3.23 लाख विदेशी कामगारों का होगा टेस्ट

2020-05-13T13:23:56.96

 

वेलिंगटनः न्यूजीलैंड में बुधवार को लगातार दूसरे दिन कोरोना वायरस संक्रमण का कोई नया मामला सामने नहीं आया। स्वास्थ्य महानिदेशक एशले ब्लूमफील्ड ने कहा कि कोरोना वायरस फैलने से रोकने के लिए देश में लागू लॉकडाउन की कई पाबंदियों में आज आधी रात से ढील दी जानी है और ऐसे में संक्रमण का कोई नया मामला सामने नहीं आने की खबर उत्साहवर्धक है। देश में मॉल, थोक दुकानें और रेस्तरां खोले जा रहे हैं लेकिन लोगों को सामाजिक दूरी बनाने के नियम का पालन करना होगा और एक स्थान पर 10 से अधिक लोगों के इकट्ठा होने पर पाबंदी होगी।

 

यह इक्तेफाक है कि जिस दिन देश में पाबंदियों में ढील दी जा रही है उसी दिन सरकार अपना सालना बजट पेश करने जा रही है। प्रधानमंत्री जेसिंडा आर्डेन ने कहा है कि देश वायरस के कारण सबसे अधिक चुनौतीपूर्ण आर्थिक स्थितियों का सामना कर रहा है। उन्होंने कहा,‘‘न्यूजीलैंड में शीतकाल बेहद मुश्किलों भरा होने वाला है लेकिन हर शीत ऋतु के बाद वसंत आता है और अगर हम सही निर्णय लेते हैं तो हम न्यूजीलैंड के निवासियों को वापस काम पर ले जा सकते हैं और हमारी अर्थव्यस्था फिर से तेजी से चल पड़ेगी।

 

उधर सिंगापुर प्रशासन ने कहा है कि वो अपने यहां रहने वाले सभी 3. 23 लाख विदेशी कामगारों का कोविड-19 टेस्ट कराएगा। शुरुआत में कोरोना संक्रमण के मामलों पर काबू पाने के लिए सिंगापुर मॉडल की तारीफ़ की जा रही थी। लेकिन अब वहां के प्रवासी मजदूर बड़े स्तर पर संक्रमित पाए गए हैं। सिंगापुर में पूरे दक्षिण एशिया से लाखों मजदूर काम करने जाते हैं। इनमें से बड़ी संख्या में मज़दूर कंस्ट्रक्शन का काम करते हैं और घनी आबादी वाली डॉरमेटरी (रूम शेयरिंग) में रहते हैं।कई बार तो एक कमरे में 16-16 मज़दूर भी रहते हैं। अब ऐसे हज़ारों मजदूरों को क्वारंटीन में रखा गया है लेकिन अभी भी रोज़ सैकड़ों मजदूर पॉज़िटिव पाए जा रहे हैं।


Tanuja

Related News