पाकिस्तान के खैबर में TTP से कहीं अधिक खतरनाक है ISIS-K

punjabkesari.in Sunday, Jan 23, 2022 - 10:29 AM (IST)

 पेशावर: अफगानिस्तान में सक्रिय इस्लामिक स्टेट खुरासान (ISIS-K ) ने प्रतिबंधित तहरीक-ए-तालिबान पाकिस्तान (TTP) की तुलना में पाकिस्तान के अशांत प्रांत खैबर पख्तूनख्वा की शांति और अखंडता के लिए कहीं अधिक बड़ा खतरा पैदा किया है। प्रांतीय पुलिस प्रमुख ने शनिवार को यह कहा। पिछले साल अगस्त में काबुल में तालिबान के सत्ता में आने के बाद अफगानिस्तान के कई शहरों में हमले तेज करने वाले ISIS-K ने खैबर पख्तूनख्वा प्रांत में पाकिस्तान के सुरक्षा अधिकारियों पर आतंकवादी हमलों को भी अंजाम दिया था।

 

खैबर पख्तूनख्वा के पुलिस प्रमुख मोअज्जम जाह अंसारी ने कहा, ‘‘हाल के दिनों में IS-K  ने इस प्रांत की शांति और सुरक्षा को TTP की तुलना में अधिक खतरा पैदा किया है।'' पिछले साल अक्टूबर में, IS-K ने प्रांतीय राजधानी में सरदार सतनाम सिंह (खालसा) नामक एक प्रसिद्ध सिख हकीम की हत्या की जिम्मेदारी भी ली थी। वह यहां यूनानी चिकित्सा पद्धति से लोगों का इलाज किया करते थे। अक्टूबर और नवंबर के महीनों में प्रांत के विभिन्न हिस्सों में कम से कम तीन पुलिसकर्मियों की हत्या कर दी गई थी।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Tanuja

Related News

Recommended News