Huawei अधिकारी की अमेरिका के साथ डील होते ही चीन ने कनाडाई नागरिक किए रिहा

09/25/2021 3:56:01 PM

इंटरनेशनल डेस्कः चीन में जासूसी के आरोपों पर जेल में बंद दो कनाडाई नागरिकों को रिहा कर दिया गया है और वे स्वदेश आने के लिए रवाना हो गए हैं। प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रुडो ने यह ऐलान किया। यह एलान तब किया गया है जब कुछ घंटों पहले चीन की संचार क्षेत्र की बड़ी कंपनी हुवावै की एक शीर्ष कार्यकारी अधिकारी का अमेरिका के न्याय विभाग के साथ एक समझौता हुआ और उनके तहत उन पर लगे आपराधिक आरोपों का समाधान निकाल लिया गया है।

 

कनाडाई नागरिक माइकल कोवरिग और माइकल स्पैवर को दिसंबर 2018 में चीन में उस समय गिरफ्तार कर लिया गया था जब इससे पहले कनाडा ने हुवावै की मुख्य वित्तीय अधिकारी और कंपनी के संस्थापक की बेटी मेंग वानझोउ को अमेरिका के प्रत्यर्पण के अनुरोध पर गिरफ्तार कर लिया था। कई देशों ने चीन के कदम को ‘‘बंधक बनाने की राजनीति'' करार दिया था। मेंग के साथ हुए समझौते के तहत न्याय विभाग अगले साल के अंत तक उनके खिलाफ लगाए धोखाधड़ी के आरोप खारिज करेगा और इसके बदले में मेंग ने यह स्वीकार किया है कि उनकी कंपनी ने ईरान में व्यापारिक सौदों को गलत तरीके से प्रस्तुत किया।

 

मेंग के विमान के कनाडा से चीन के लिए रवाना होने के करीब एक घंटे बाद ट्रुडो ने शुक्रवार रात को एक संवाददाता सम्मेलन बुलाया। मेंग के साथ समझौते से अमेरिका, चीन और कनाडा के बीच वर्षों से चल रहा विवाद खत्म हो गया है। मेंग को दिसंबर 2018 में वैंकूवर हवाईअड्डे पर गिरफ्तार किया गया था। यह समझौता तब हुआ है अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन और चीन के उनके समकक्ष शी चिनफिंग ने दोनों देशों के बीच तनाव कम करने का आह्वन किया। बाइडन ने इस हफ्ते संयुक्त राष्ट्र महासभा में कहा कि उनका ‘‘नया शीत युद्ध'' शुरू करने का कोई इरादा नहीं है जबकि शी ने विश्व नेताओं से कहा कि देशों के बीच विवादों को ‘‘संवाद और सहयोग के जरिए हल किए जाने की आवश्यकता है।'' 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Tanuja

Recommended News