पाकिस्तान-चीन की डर्टी गेमः CPEC के नाम पर ट्विटर पर लोगों को गुमराह कर रहे फर्जी हैंडल

punjabkesari.in Tuesday, May 17, 2022 - 05:53 PM (IST)

इंटरनेशनल डेस्कः DFRAC की विशेष रिपोर्ट में पाकिस्तान सोशल मीडिया की ट्रोल आर्मी द्वारा खेले जा रहे डर्टी गेम का खुलासा हुआ है। DFRAC की रिपोर्ट के अनुसार  पाकिस्तान के फर्जी हैंडल CPEC के नाम पर ट्विटर पर लोगों को गुमराह कर रहे हैं। @Gwadar_Pro एक चीन-पाकिस्तान कृषि और औद्योगिक ट्विटर प्लेटफॉर्म है। जो ट्विटर पर चीन-पाकिस्तान कॉरिडोर (CPEC) को समर्पित चीनी नेरेटिव को बढ़ावा देता है। साथ ही इसका ज़ोर दोनों के बीच संबंधों को और अधिक मजबूत बनाने पर है। यह उन फेक हैंडल को प्रमोट और फॉलो करता है जो इस अकाउंट की विचारधारा का समर्थन और प्रचार करते हैं।

 

अकाउंट की टाइमलाइन देखने पर  पाया  गया कि ये अकाउंट प्रमुख रूप से पाकिस्तान के पर्यटन और कृषि विकास को प्रमोट करता है  जिससे न केवल देश लाभान्वित हो रहा है बल्कि अंतरराष्ट्रीय स्तर पर अपना नाम भी बना रहा है। रिपोर्ट के मुताबिक CPEC के नाम पर ट्विटर पर  पहले ही @Xinhua_88 और @ChinaPakWW जैसे पाकिस्तान से संचालित कुछ फेक अकाउंट को कवर किया जा रहा था लेकिन फर्जीवाड़े का खुलासा होने के बाद इन अकाउंट को ट्विटर द्वारा सस्पेंड कर दिया गया था।

 

Gwadar_Pro के समर्थन में कई ट्विटर अकाउंट चीनी, रूसी, तुर्की, अमेरिकी आदि नामों से संचालित हो रहे हैं, लेकिन वास्तव में, ये सभी पाकिस्तानी अकाउंट हैं। इन सभी अकाउंट के बीच एक ही समानता है। ये सभी पाकिस्तान समर्थक और चीन के नेरेटिव को बढ़ावा देते है। इनमे ज्यादातर अकाउंट पेड अकाउंट है यानि इन अकाउंट को भुगतान किया जाता हैं। ऐसा दोनों देशों की एक सकारात्मक छवि बनाने और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर उनके संबंधों को मजबूत बनाने के लिए किया गया है। साथ ही ये अकाउंट पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान के सपोर्टर भी हैं।

 

इन सभी अकाउंट का  लाइक और रीट्वीट करने का पैटर्न भी काफी हद तक मिलता-जुलता है, सभी Gwadar_Pro के एक ही ट्वीट को एक समान तरीके से रीट्वीट और लाइक कर रहे हैं। इस DFRAC विश्लेषण रिपोर्ट में उन सभी अकाउंट का खुलासा किया जा रहा है जो  जो पाकिस्तान से चल रहे है। साथ ही उन फेक अकाउंट के बारे में भी जांच चल रही है  जो एक जैसे  लाइक और री-ट्वीट पैटर्न में शामिल है। 

 

एक ऑडिट करने पर,  पता चला कि Gwadar_Pro के लगभग 14,796 फॉलोवर फेक हैं, जो कुल फॉलोवर का 31% है। 8,000 से अधिक अकाउंट की स्टडी करने पर पता चला कि ये सभी अकाउंट Gwadar_Pro के सपोर्ट में हैं।  उन अकाउंट की भी लोकेशन का पता चला, जो Gwadar_Pro के ट्वीट्स को बढ़ाने में मदद करते हैं। 8,000 अकाउंट में से अधिकांश पाकिस्तान से चल रहे है। स्टडी  के मुताबिक, 5,000 से अधिक अकाउंट की लोकेशन पाकिस्तान है। जबकि यूएई से 290 और यूके से 230 अकाउंट  संचालित हो रहे। सबसे खास बात ये है कि 180 अकाउंट भारत से भी संचालित हो रहे।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Tanuja

Related News

Recommended News