कोविड-19 के चलते कोई भी परीक्षा या अकादमिक गतिविधियां नहीं रोकी जाएगी

2021-04-10T18:36:01.457

एजुकेशन डेस्क: कर्नाटक सरकार ने शनिवार स्पष्ट किया कि वह कोविड-19 के चलते कोई भी परीक्षा या अकादमिक गतिविधियां नहीं रोकेगी। कर्नाटक के उपमुख्यमंत्री डॉ. सी एन अश्वत्थ नारायण ने यहां संवाददाताओं से कहा, ‘डिग्री, स्नातकोत्तर, अभियांत्रिकी, डिप्लोमा और अन्य पाठ्यक्रमों समेत विश्वविद्यालय स्तर की परीक्षाएं निर्धारित कार्यक्रम के हिसाब से ही होंगी।'

उच्च शिक्षा विभाग का कामकाज देख रहे नारायण ने कहा कि 2021-22 की अकादमिक गतिविधियों में पहले ही विलंब हो चुका हैं तथा उनमें और देर नहीं की जानी चाहिए। उन्होंने कहा कि यदि देरी हुई तो पाठ्यक्रम अवधि, परीक्षा, परिणाम, रोजगार, आगे की पढ़ाई का चक्र प्रभावित होगा। उन्होंने कहा कि यह सुनिश्चित करने के लिए कदम उठाये गये हैं कि 2021-22 की अकादमिक गतिविधियां प्रभावित न हों।

नारायण ने कहा, ‘परीक्षाएं, जो फिलहाल आयोजित करायी जा रही हैं, खत्म हो जाने के बाद ग्रीष्मावकाश नहीं होगा। उसके तुरंत बाद कक्षाएं शुरू हो जाएंगी तथा ऑफलाइन एवं ऑनलाइन दोनों कक्षाएं होंगी।' उन्होंने कहा, ‘विद्यार्थियों के लिए ऑनलाइन या ऑफलाइन कक्षाएं करना अनिवार्य होगा।' उन्होंने कहा कि लेकिन विश्वविद्यालयों एवं महाविद्यालयों को कोरोना वायरस का प्रसार रोकने के लिए मानक संचानल प्रक्रिया का पालन करना होगा। 


Content Editor

rajesh kumar

सबसे ज्यादा पढ़े गए

Recommended News

static