बिहार बोर्ड ने लिया बड़ा फैसला- मैट्रिक और इंटर में फेल स्टूडेंट्स ग्रेस मार्क्स से होगें पास

2020-08-07T10:12:38.073

नई दिल्ली- बिहार स्कूल एग्जामिनेशन बोर्ड की ओर से मैट्रिक और इंटर का परिणाम जारी कर दिया है। इस बार परीक्षा में करीब दो लाख 14 हजार 287 स्टूडेंट्स को जो एक या दो पेपर में फेल थे, ग्रेस मार्क्स देकर पास कर दिया है। कोरोना महामारी में कंपार्टमेंट परीक्षा न कराने को देखते हुए यह फैसला लिया गया।

PunjabKesari

बोर्ड के मुताबिक कोरोना काल में दो तीन माह के बाद ही कंपार्टमेंटल परीक्षा हो सकती है, एेसे में रिजल्ट जारी होते ही नवंबर हो जाता। रिजल्ट देरी से जारी होने के कारण इंटर व उच्च शिक्षा में नामांकन लेने से छात्र वंचित हो जाते। इसी कारण छात्र हित में यह निर्णय लिया गया है। 

इस बार इंटर में कुल 46,005 परीक्षार्थी एक विषय में और 86,481 परीक्षार्थी दो विषयों में फेल हुए थे। वहीं मैट्रिक में एक विषय में 1,08,459 और दो विषय में 99,688 विद्यार्थी अनुत्तीर्ण थे। इस साल 2020 में मैट्रिक और इंटर मिलाकर कुल 3 लाख 40 हजार 633 विद्यार्थी एक और दो विषय में अनुत्तीर्ण हुए थे।  

ये है डिटेल 
इंटर में कंपार्टमेंटल देने वाले कुल छात्र -  1,32,489 
ग्रेस अंक से उत्तीर्ण छात्र -  72,610 
मैट्रिक में कंपार्टमेंटल देने वाले कुल छात्र  -  2,08,147
ग्रेस अंक से उत्तीर्ण हुए - 1,41,677 

गौरतलब है कि बिहार बोर्ड मैट्रिक 2020 रिजल्ट में कुल 80.59 प्रतिशत स्टूडेंट्स पास हुए हैं। इनमें से 4,03,392 विद्यार्थी प्रथम श्रेणी में, 524217 सेकेंड डिवीजन से और 2,75,402 थर्ड डिवीजन से पास हुए हैं। 

एेसे करें चेक
जो स्टूडेंट्स परीक्षा में फेल हुए थे वो इस लिंक onlinebseb.in. पर क्लिक कर नतीजे चेक कर सकते हैं। 


Author

Riya bawa

Related News