क्या आपके घर के मंदिर में हैं ये चीज़ें अगर नहीं तो...

punjabkesari.in Thursday, Apr 23, 2020 - 09:49 AM (IST)

शास्त्रों की बात, जानें धर्म के साथ
चूंकि पूरे देश में इस समय लॉकडाउन चल रहा है, इसी के चलते मंदिरों आदि के कपाट भी भक्तों के लिए बंद कर दिए गए हैं। इसी के चलते हर कोई घर बैठा ही अपने प्रभु को प्रसन्न करने में जुटा है। मगर बहुत से ऐसे लोग हैं जिन्हें ये लग रहा है कि उनके द्वारा की गई पूजा में किसी न किसी तरह की कोई कमी है। दरअसल उनका ऐसा सोचना गलत नहीं है कि क्योंकि मंदिर में पूजा करना और घर में पूजा करने में अंतर होता है। क्योंकि बहुत सी चीज़ें जो मंदिर में उपलब्ध होती है मगर घर पर नहीं। तो ऐसे में क्या करना चाहिए? कहा जाता है ऐसे में वास्तु शास्त्र मददगार साबित होता है। जी हां इसमें पूजा घर से जुड़ी ऐसी बातें बताई हैं जो आपके लिए बहुत लाभदायक हो सकती हैं। जी हैं क्योंकि इससे न केवल पूजा सफल होती है। बल्कि भगवान अधिक प्रसन्न होकर दोगुना फल प्राप्त करते हैं।

तो चलिए जानते हैं वास्तु के अनुसार पूजा घर में किन चीज़ों का होना ज़रूरी होता है-

लौटे में जल
हर किसी को इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि घर के पूजा घर में तांबे का लौटे में जल तथा तुलसी मिलाकर रखें। और सुबह शाम पूजा के बाद इस जल को परिवार के सभी सदस्यों में वितरित करें और खुद भी इसका सेवन करें तथा बाद में नया साफ जल भरकर रख दें।

चंदन
घर के मंदिर में चंदन का होना अति आवश्यक है। शास्त्रों के अनुसार चंदन शांति व शीतलता प्रदान करता है तथा इसकी मनमोहक खुशबू घर में सकारात्मकता पैदा करती है।

अक्षत
अक्षत, यानि चावल के दाने। घर के मंदिर में अक्षत भी होने चाहिए, ध्यान रहे इसमें से एक भी दाना टूटा नहीं होना चाहिए। मान्यता है कि इन्हें संपन्नता का प्रतीक माना जाता है।

ताज़ा फूल
हिंदू शास्त्रों के अनुसार देवी-देवताओं को पुष्य अधिक प्रिय होते हैं। इसलिए रोज़ाना इनके समक्ष फूल अर्पित करने चाहिए। इसी के साथ पूजा घर में रोली यानि कुमकुम का होना भी अति आवश्यक है। रोली को चावल यानि अक्षत के साथ माथे पर लगाया जाता है।   

घंटी
घर के मंदिर में घंटी होनी आवश्यक मानी जाती है, वास्तु शास्त्र के अनुसार जहां नित्य घंटी का प्रयोग होता है वहां का वातावरण अच्छा रहता है। क्योंकि इसकी ध्वनि से नकारात्मकता दूर होती है।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Jyoti

Related News

Recommended News