ऐसे घर में कभी दस्तक नहीं देती गरीबी

9/14/2019 12:11:43 PM

शास्त्रों की बात, जानें धर्म के साथ

गरीबी से दूर भागने के लिए यदि आप कड़ी मेहनत के साथ कुछ वास्तु उपाय भी आजमा लें तो बहुत सारी अनचाही परेशानियों से बच सकते हैं। घर में कई बार कुछ ऐसी परिस्थितियां होती हैं जिससे वास्तुदोष पैदा हो जाता है। घर के लोग इस अनिष्ट से अनजान होते हैं। कई बार घर में पैसा तो बहुत आता है लेकिन बरकत नहीं होती। वास्तु एक्सपर्ट से जानें, भवन की संरचना में बरती जाने वाली प्रमुख सावधानियां-

PunjabKesari Vastu Tips For Money
जल को कभी भी नैर्ऋत्य कोण की दिशा में न रखें क्योंकि ऐसा करने से पानी में स्वाद नहीं रहेगा, वह बेस्वाद लगेगा।

सोने के लिए जगह (बैडरूम) कभी भी नैर्ऋत्य कोण (दक्षिण-पश्चिम कोण) की दिशा में न हो, यदि नैर्ऋत्य दिशा में बैडरूम होगा तो उसमें सोने वाले को बुरे-बुरे एवं भयानक स्वप्र दिखाई देंगे। जिससे जातक को अच्छी नींद नहीं आएगी और जातक को नींद में हड़बड़ाकर उठने की आदत होगी तथा ऐसे घर में (स्थान में) पिशाच बाधा होगी।

रसोई पश्चिम या नैर्ऋत्य (दक्षिण-पश्चिमी) कोण की दिशा में न बनाएं क्योंकि पश्चिम एवं नैर्ऋत्य कोण की तरफ से (मध्याह्न के बाद के) सूर्य की किरणों, जिन्हें पराबैंगनी किरणें तथा रेडियोधर्मिता से युक्त किरणें कहते हैं और जो मनुष्य की सेहत के लिए हानिकारक होती हैं, के कारण रसोई का खाना बेस्वाद बनेगा तथा उस खाने में पौष्टिकता भी नहीं रहेगी।

PunjabKesari Vastu Tips For Money

कूड़ा-कर्कट रखने की जगह एवं शौचालय की जगह पश्चिम दिशा के अलावा और किसी भी दिशा में नहीं रखनी चाहिए। यदि नैर्ऋत्य कोण में कुछ नहीं हो, तब वहां पर बेजरूरत, बेकार वस्तुएं रख दें।

स्वर्ण, अलंकार एवं नकदी रोकड़ रखने के लिए ईशान की दिशा सर्वश्रेष्ठ एवं सम्पत्तिवर्धक है। ईशान कोण के अलावा अन्य किसी और दिशा में स्वर्ण, अलंकार एवं रोकड़ रखने की जगह नहीं होनी चाहिए।

PunjabKesari Vastu Tips For Money

पूर्व दिशा में शौचालय बिल्कुल नहीं होना चाहिए क्योंकि सुबह में पूर्व की दिशा से आने वाला सूर्य का प्रकाश, जिसमें विटामिन-डी एवं एफ. की मात्रा सबसे अधिक होती है और जो मनुष्य के स्वास्थ्य के लिए लाभदायक होता है, उस शौच पर गिरकर अशुद्ध जीवाणुओं, कीटाणुओं एवं रोगाणुओं से युक्त होकर हानिकारक हो जाता है। यहां तक अनुभव में आया है कि पूर्व की दिशा में शौचालय होने से उस मकान में रहने वालों की आर्थिक स्थिति अच्छी नहीं रहती। यहां तक कि जिस मकान के प्रवेश द्वार पर शौचालय है, बेशक गृह प्रवेश किसी भी दिशा में हो, ऐसे मकान में रहने वालों की आर्थिक स्थिति दयनीय होती है।


Niyati Bhandari

Related News