Chaitra Navratri 2022: देसी-विदेशी फूलों-फलों से सजा मां वैष्णो देवी का दरबार

punjabkesari.in Sunday, Apr 03, 2022 - 11:56 AM (IST)

शास्त्रों की बात, जानें धर्म के साथ
कटड़ा: श्री माता वैष्णो देवी श्राइन बोर्ड द्वारा भवन में चैत्र नवरात्र पर शतचंडी महायज्ञ का आयोजन किया गया। यह महायज्ञ महानवमी के दिन पूर्णाहुति के साथ समाप्त होगा। इस शतचंडी महायज्ञ का सीधा प्रसारण प्रतिदिन 11.30 बजे से 1 तक नवरात्रों में दिखाया जाएगा। नवरात्रों के अवसर पर भवन तथा आसपास के क्षेत्रों को देसी-विदेशी फूलों फलों से सजाया गया है। वहीं कटड़ा से भवन तक विशेष प्रकार की लाइटें लगाई गई हैं ताकि यात्रियों को मुश्किल न हो। यात्रियों के लिए भवन तथा पूरे रास्ते में बिजली, पानी व सफाई के प्रबंध किए गए हैं। इसके अतिरिक्त भोजनालय में व्रत की सामग्री भी उपलब्ध कराई गई है। श्राइन बोर्ड के सी.ई.ओ. रमेश कुमार निरंतर यात्रा का मॉनिटरिंग कर रहे हैं।

PunjabKesari Chaitra Navratri 2022, Chaitra Navratri, Mata Vaishno Devi, aVaishno Devi Temple, देसी-विदेशी फूल-फल, Vaishno Devi Yatra, Vaishno Devi Decoration, Vaishno Devi Preprations for Navratri, मां वैष्णो देवी का दरबार, Dharmik Sthal, Religious place in hindi, Dharm
इसके अलावा बता दें हर साल की तरह इस बार भी चैत्र नवरात्रि के शुभ व पावन अवसर पर श्री माता वैष्णो देवी जी के भवन और उसके आसपास के क्षेत्र को भी नवरात्रों में फूलों से सजाया गया है। बताया जाता है कि प्रत्येक वर्ष यहां देशी-विदेशी फलों और फूलों से सजावट की जाती है। आगे बताते चलें यहां भवन क्षेत्र में विशाल स्वागत द्वार और पंडाल आदि स्थापित किए गए हैं। इसी तरह भवन क्षेत्र को भी बेहद आकर्षक व रंग-बिरंगी लाइटों से भी रौशन किया गया है। कटरा से भवन तक यानि लगभग 12 कि.मी की यात्रा में हुई उत्सव की लुभावनी सजावट तीर्थयात्रियों को विशेष आनंद देने वाली है। 
PunjabKesari Chaitra Navratri 2022, Chaitra Navratri, Mata Vaishno Devi, aVaishno Devi Temple, देसी-विदेशी फूल-फल, Vaishno Devi Yatra, Vaishno Devi Decoration, Vaishno Devi Preprations for Navratri, मां वैष्णो देवी का दरबार, Dharmik Sthal, Religious place in hindi, Dharm
भक्तों के लिए उपलब्ध करवाया जा रहा है व्रत का भोजन-
श्राइन बोर्ड द्वारा बड़ी संख्या में तीर्थयात्रियों की सुविधा के लिए विस्तृत व्यवस्था की गई है, जिनके नवरात्रों के दौरान गर्भगृह में पूजा करने की उम्मीद है। इन व्यवस्थाओं में श्राइन की ओर जाने वाली पटरियों पर चौबीसों घंटे पानी और बिजली की आपूर्ति सुनिश्चित करना, स्वच्छता और बोर्ड के भोजनालय में विशेष "फास्ट रिलेटेड" भोजन की उपलब्धता आदि शामिल हैं। इसके अतिरिक्त, पवित्र गुफा तीर्थ की ओर जाने वाले सभी मार्गों को तीर्थयात्रियों की सुचारू आवाजाही के लिए पूरी तरह से बनाया गया है। 

PunjabKesari Chaitra Navratri 2022, Chaitra Navratri, Mata Vaishno Devi, aVaishno Devi Temple, देसी-विदेशी फूल-फल, Vaishno Devi Yatra, Vaishno Devi Decoration, Vaishno Devi Preprations for Navratri, मां वैष्णो देवी का दरबार, Dharmik Sthal, Religious place in hindi, Dharm


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Jyoti

Related News

Recommended News