Makar Sankranti 2020: इस मंत्र के जाप से भगवान सूर्यदेव देंगे, आरोग्य जीवन का वरदान

2020-01-12T15:17:11.81

शास्त्रों की बात, जानें धर्म के साथ
इस बात से तो सब वाकिफ ही हैं कि मकर संक्रांति का दिन हिंदू धर्म में कितने मायने रखता है और साथ ही इस दिन किए जाने वाला दान, तप, स्नान व हवन उससे भी अधिक महत्व रखता है। कहते हैं कि इस दिन किसी पवित्र नदी में स्नान करना चाहिए और कुछ लोग तो पूरे माघ माह ही पवित्र नदियों में स्नान करते हैं। लेकिन जो लोग कहीं नहीं जा पाते व मन में ही भगवान का नाम लेकर नहाने के पानी में गंगा जल मिलाकर स्नान कर सकते हैं। शास्त्रों के अनुसार इस दिन सूर्यदेव की आराधना की जाती है और पूरे माघ महीने में उन्हें जल चढ़ाने से आरोग्यता का वरदान मिलता है। वहीं आज हम आपको एक ऐसे मंत्र के बारे में बताने जा रहे हैं, जिससे कि आपको सूर्य देव से आशीर्वाद मिल सकता है। 
PunjabKesari
मकर संक्रांति किन प्रातकाल स्नान के पश्चात तांबे के लोटे में शुद्ध जल भरकर उसमें लाल पुष्प, लाल चन्दन, तिल आदि डालकर 'ॐ घृणि सूर्याय नमः' मंत्र का जप करते हुए सूर्य को अर्घ्य देने से लाभ मिलेगा। 
Follow us on Twitter
PunjabKesari
माना जाता है कि अर्घ्य देते समय इंसान की दृष्टि गिरते हुए जल में प्रतिबिंबित सूर्य की किरणों पर होनी चाहिए। 

भविष्य पुराण के अनुसार सूर्यनारायण का पूजन करने वाला व्यक्ति प्रज्ञा, मेधा तथा सभी समृद्धियों से संपन्न होता हुआ चिरंजीवी होता है। 
PunjabKesari
ऐसा माना गया है कि अगर कोई व्यक्ति सूर्य की मानसिक आराधना भी करता है तो वह समस्त रोगों से रहित होकर सुखपूर्वक जीवन व्यतीत करता है। 
Follow us on Instagram
 


Lata

Related News