सूर्य ने किया नक्षत्र परिवर्तन, इन 6 राशियों के लिए मंगलकारी!

2021-08-03T15:55:53.427

शास्त्रों की बात, जानें धर्म के साथ
ज्योतिष में आत्मा का कारक माने जाने वाले सूर्य  ने आज 3 अगस्त की सुबह 3 बजकर 42 मिनट पर अपना नक्षत्र परिवर्तन किया है और अब वह अश्लेषा नक्षत्र में आ गए हैं। पिछले महीने 6 जुलाई को सूर्य पुनर्वसु नक्षत्र में गोचर कर रहे थे, जो देव गुरु बृहस्पति का नक्षत्र है। इसके बाद 20 जुलाई को सूर्य ने पुष्य नक्षत्र में गोचर किया, जो शनि का नक्षत्र है।  सूर्य पुष्य नक्षत्र में 3 अगस्त तक गोचर करने के बाद 3 अगस्त को अश्लेषा नक्षत्र में आ गए हैं। अश्लेषा नक्षत्र बुध का नक्षत्र है और बुध के साथ सूर्य की मित्रता है। जो लोग अश्लेषा नक्षत्र में जन्म लेते हैं उनकी कर्क राशि होती है जिसके स्वामी चंद्रमा होते हैं। इसलिए  इस नक्षत्र में जन्म लेने वाले लोगों पर बुध और चंद्रमा का प्रभाव रहता है। ज्योतिष शास्त्र व हमारी संस्कृति में सूर्य के राशि परिवर्तन या नक्षत्र परिवर्तन करने को एक महत्वपूर्ण घटना माना जाता है। सूर्य के राशि  परिवर्तन से सभी राशियां भी प्रभावित होती हैं और देश पर भी इसका असर पड़ता है।

वैसे भी ज्योतिष में व शास्त्रों में सूर्य को आत्मा का कारक ग्रह होने के साथ ही हमारे मान-सम्मान व अपमान का भी कारक माना जाता है। जिस व्यक्ति की कुंडली में सूर्य मजबूत स्थिति में होता है,  उसे समाज में मान-सम्मान और समृद्धि की प्राप्ति होती है। सूर्य  ऐसा ग्रह है जो कभी वक्री गति नहीं करता। सूर्य देव को प्रत्यक्ष देवता भी कहा जाता है जो हमें प्रतिदिन दर्शन देते हैं। शास्त्रों में इनकी उपासना से मिलने वाले शुभ फलों की लंबी सूची है। धार्मिक मान्यताओं की मानें तो यह ताकत, अधिकार, यश, नौकरी आदि के देवता है।  इनकी पूजा विधि-विधान से करने से उपरोक्त मनोकामनाएं पूरी होती हैं। सूर्य के नक्षत्र परिवर्तन का सभी 12 राशियों पर क्या असर पड़ेगा,  मैं इसके बारे में आपको बताना चाहूंगा। सूर्य के नक्षत्र परिवर्तन 6 राशियों के लिए बेहद शुभ रहने वाला है। यह 6 भाग्यशाली राशियां हैं-  मेष राशि , मिथुन राशि, सिंह राशि,  तुला राशि , धनु राशि और मीन राशि।

पहले इन 6 राशियों की ही बात कर लेते हैं-
मेष राशि वालों को धन लाभ होने की संभावना है। इस दौरान शिक्षा से जुड़े लोगों को शुभ परिणाम मिलेंगे। करियर में सफलता के योग बनेंगे।

मिथुन राशि वालों की आर्थिक स्थिति बेहतर होगी। आय में वृद्धि होगी । इस दौरान आपको निवेश का भी फायदा मिल सकता है। कारोबार में तरक्की के योग बनेंगे।

सिंह राशि वालों का इस दौरान भाग्य साथ देगा। किसी काम को पूरी लगन से करने पर उसमें सफलता प्राप्त होगी। करियर में भी शुभ परिणाम देखने को मिलेंगे।

तुला राशि वालों के लिए बुध और सूर्य का यह गोचर अच्छे दिन लेकर आएगा।  कोई भी नया काम शुरू करना शुभ रहेगा। संपत्ति में लाभ के योग बनेंगे। वाहन की सुख की प्राप्ति हो सकती है।

धनु राशि वालों की आय में बढ़ोतरी होने के योग बन सकते हैं। प्रमोशन का योग भी बनेेगा। विवाह योग्य संतान के लिए अच्छे रिश्ते आएंगे और आपके अधिकार क्षेत्र में भी वृद्धि होगी।

मीन राशि के लिए समय शुभ रहेगा । आपके वर्चस्व में बढ़ोतरी हो सकती है। लाभ मिल सकता है। बाधाएं दूर होने के योग भी हैं।

अब उन चार राशियों की बात करते हैं जिन्हें थोड़ा सचेत रहना होगा। यह 4 राशियां हैं-  वृषभ राशि, वृश्चिक राशि, मकर राशि व कुंभ राशि।

वृषभ राशि वालों के लिए अभी इन्वेस्टमेंट करना ठीक नहीं रहेगा। कार्यस्थल पर अपने सहयोगियों की नाराजगी से बचना होगा और अपनी वाणी पर नियंत्रण रखना होगा अन्यथा मानसिक तनाव हो सकता है।

वृश्चिक राशि वालों को अपने स्वास्थ्य पक्ष का भी ख्याल रखना होगा। लंबी दूरी की यात्राओं से बचना होगा। जीवनसाथी या लव पार्टनर के साथ थोड़ा विचारों में मतभेद हो सकते हैं।

मकर राशि वालों का जीवन साथी के साथ वाद-विवाद हो सकता है। संयम से काम लेना होगा और कार्यस्थल पर भी अपनी वाणी पर भी नियंत्रण रखें।

कुंभ राशि वालों को जोश के साथ साथ होश से भी काम लेना होगा और उतावलापन से बचना होगा । किसी भी बात पर तुरंत प्रतिक्रिया से पहले थोड़ा सोच समझ लेना होगा।

कर्क राशि और कन्या राशि वालों के लिए सूर्य का नक्षत्र परिवर्तन मिलाजुला रहने वाला है यानि ना तो फायदा होगा और न ही नुकसान, यथास्थिति बनी रहेगी।

गुरमीत बेदी 
gurmitbedi@gmail.com


 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Jyoti

Recommended News