लक्ष्य को पाने की छटपटाहट ही दिलाती है सफलता

11/17/2019 9:57:03 AM

शास्त्रों की बात, जानें धर्म के साथ
एक दिन एक युवक पास के मंदिर के साधु के पास गया। युवक ने साधु से कहा कि मैं बहुत परेशान हूं, मुझे अपने लक्ष्य को पाने और सफल होने का रहस्य बताइए। साधु ने बड़े ही विनम्र भाव से कहा, ''तुम कल आना, मैं तुम्हें सफलता पाने का रहस्य बताऊंगा। अगले दिन युवक फिर आया और साधु से फिर वही सवाल किया। साधु ने भी उसे वही जवाब देकर मना कर दिया। इस तरह साधु उस युवक को कई दिनों तक टालते रहे।"
PunjabKesari, सफलता, Success
एक दिन युवक को गुस्सा आ गया और वह साधु से बोला, ''आज तो मैं सफलता का रहस्य जानकर रहूंगा।"

ऐसा सुनकर साधु तैयार हुए और उसे नदी के पास लेकर गए। वह युवक को नदी में गले तक गहरे पानी में ले गए। जैसे ही युवक ने तैरने की कोशिश की साधु ने उसकी गर्दन पकड़ उसका सिर पानी में डुबो दिया। थोड़ी देर के लिए सिर बाहर निकाला और फिर सिर पानी में डुबो दिया। युवक पानी से सिर बाहर निकालने के लिए हरसंभव कोशिश करने लगा। वह पूरी तरह से छटपटा रहा था। युवक को लगने लगा कि अगर वह बाहर नहीं निकला तो वह मर जाएगा इसलिए उसने पूरा जोर लगा कर एक झटके से साधु के हाथ को हटाते हुए अपना सिर बाहर निकाल लिया। 
PunjabKesari, Saint, Sadhu, साधु
जैसे ही लड़का बाहर निकला साधु ने कहा, ''बस यही सफलता पाने का रहस्य है। जब तक तुम्हें ऐसा नहीं लगेगा कि तुम्हें हर हालत में सफलता पानी है और उसके बिना तुम मर जाओगे, सफलता पाने के लिए छटपटाओगे नहीं तब तक तुम्हें सफलता नहीं मिलेगी।


Jyoti

Related News