Vastu: घर की सीढ़ियों से जुड़ी इन बातों से क्या आप भी हैं अंजान तो...

punjabkesari.in Thursday, Nov 24, 2022 - 11:36 AM (IST)

शास्त्रों की बात, जानें धर्म के साथ
वास्तु  के अनुसार घर के हर कोने का अपना एक महत्व होता है और घर की सुख शांति के लिए हर स्थान का दोषमुक्त होना भी जरूरी होता है। इसी बीच आज हम बात करेंगे घर की सीढ़ियों के नीचे वाले स्थान की। अक्सर देखा जाता है कि घर की सीढ़ियों के नीचे जो स्थान होता है लोग उसे कबाड़ रखने के लिए प्रयोग करने लगते हैं। या तो वहां डस्टबिन रख देते हैं, या फिर पोंछा। लेकिन सीढ़ियों को लेकर वास्तुे के नियम क्या हैं, ये आज हम आपको बताने जा रहे हैं जिससे आपको घर की सीढ़ियों के नीचे के हिस्से से जुड़ी खास बातों के बारे में अच्छे से जानकारी प्राप्त हो सकती है। किन बातों का ध्यान रखना चाहिए- 
PunjabKesari
वास्तु विशेषज्ञों के मुताबिक कभी भी सीढ़ियों के नीचे जूते-चप्पल की अलमारी और पैसों की अलमारी या तिजोरी न रखें। क्योंकि ऐसा करने से आपको जीवन में आर्थिक संकट का सामना करना पड़ता है। और पैसों में बरकत नहीं हो पाती है।

वहीं आपको बता दें कि सीढ़ियों के नीचे कभी भी कूड़ा और डस्टबिन न रखें।. क्योंकि वास्तु शास्त्र के मुताबिक ऐसा करने से आपके ऊपर भारी दोष लगता है।

अक्सर ऐसा देखा जाता है कि लोग जगह बचाने के लिए सीढ़ियों के नीचे बाथरूम, रसोई या पूजा घर तक बना देते हैं। लेकिन आपको बता दें कि वास्तु जानकारों के अनुसार ऐसा भूलकर भी नहीं करना चाहिए। इससे घर की शांति भंग हो जाती है। इतना ही नहीं वास्तुन में बताया गया है कि सीढ़ियों के नीचे रोजाना इस्तेमाल में आने वाले कमरे भी नहीं बनाने चाहिए। क्योंकि ऐसा करने से परिवार के सदस्यों पर इसका बुरा प्रभाव पड़ता है। और जीवन धीरे-धीरे कंगाल होने लगता है।

हालांकि आप सीढ़ियों के नीचे के स्थान को स्टोर रूम की तरह प्रयोग कर सकते हैं। लेकिन ध्यान रहें कि इस स्थान की साफ-सफाई होना जरूरी है। जी हां, शास्त्र के मुताबिक सीढ़ियों को हमेशा साफ-सुथरा रखना चाहिए। गंदी सीढ़ी रखने से घर में नकारात्मकता आती है।
PunjabKesari

इसके अलावा सीढ़ियों के नीचे अगर नल लगा है तो इस बात का ध्यान रखें कि उन नलों से पानी लीक न हो, क्योंकि पानी का बहना पैसा बहने के समान होता है।

1100  रुपए मूल्य की जन्म कुंडली मुफ्त में पाएं । अपनी जन्म तिथि अपने नाम , जन्म के समय और जन्म के स्थान के साथ हमें 96189-89025 पर वाट्स ऐप करे
PunjabKesari
कभी भी सीढ़ियों के ऊपर अंधेरा न रखें। रोशनी ऐसी होनी चाहिए जो कि न बहुत तेज हो और न ही बहुत कम।

बता दें कि वास्तु शास्त्र के अनुसार, घर में सीढ़ियां हमेशा नैऋत्य कोण यानी दक्षिण-पश्चिम, दक्षिण या पश्चिम दिशा में रखें। इस दिशा में सीढ़ियां होना उत्तम माना जाता है। इससे घर में प्रगति होती है और सुख-शांति बनी रहती है। वहीं उत्तर-पश्चिम दिशा का चयन भी सीढ़ियों के निर्माण के लिए सही माना जाता है।

लेकिन भूलकर भी ईशान कोण या उत्तर दिशा में सीढ़ियां न बनवाएं। 

आखिर में बता दें कि घर की सीढ़ियां हमेशा चौड़ी होनी चाहिए  क्योंकि ये धन वैभव का कारक होती है।
PunjabKesari
 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Jyoti

Related News

Recommended News