Shyama Prasad Mukherjee Park: गाजियाबाद का श्यामा प्रसाद मुखर्जी पार्क, जिसकी हरियाली पहुचाएंगी आपके दिल को सुकून

punjabkesari.in Tuesday, Dec 05, 2023 - 06:44 PM (IST)

शास्त्रों की बात, जानें धर्म के साथ

Shyama Prasad Mukherjee Park: दिल्ली एवं नोएडा के नजदीक गाजियाबाद में सपरिवार सैर-सपाटा करने के लिए डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी पार्क मुफीद स्थान है। चारों तरफ फैली हरियाली और शांत माहौल में सुकून के पल गुजारने का अनुभव यादगार होता है। राष्ट्रीय राजमार्ग-9 के समीप बुलंदशहर रोड औद्योगिक क्षेत्र में यह पार्क लगभग 68 एकड़ में फैला है। 12 जुलाई, 2000 को डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी  के जन्मशताब्दी के अवसर पर वहां उनकी आदमकद प्रतिमा स्थापित की गई थी।

PunjabKesari Shyama Prasad Mukherjee Park

Vigyan Vatika is an attraction विज्ञान वाटिका है आकर्षण
नागरिकों को आकर्षित करने के लिए वहां विशेष सुविधाओं का बंदोबस्त किया गया है। गाजियाबाद शहर का सबसे ऊंचा तिरंगा पार्क में फहराया गया है। ध्वज की ऊंचाई 180 फुट है। दूर-दराज के इलाकों से यह ध्वज शान से लहराता दिखाई दे जाता है। इसके अलावा पार्क में विज्ञान वाटिका एवं औषधि वाटिका विकसित की गई हैं। विज्ञान वाटिका में साइंस से जुड़े आविष्कारों की चित्र प्रदर्शनी है जिन्हें देखकर विद्यार्थियों को विज्ञान से जुड़ी खास जानकारियां मिलती हैं। इसी प्रकार औषधि वाटिका में विभिन्न औषधियों के पौधे रोपित किए गए हैं जिन्हें करीब से देखकर आगंतुकों का मन मोहित हो उठता है। डॉ. मुखर्जी पार्क की देख-रेख का जिम्मा नगर निगम ने संभाल रखा है।

PunjabKesari Shyama Prasad Mukherjee Park

Facility will also be available for partying पार्टी करने के लिए भी मिलेगी सुविधा
पार्क को पर्यटन स्थल के तौर पर विकसित करने की प्लानिंग की गई है। इसके अंतर्गत भविष्य में वहां जन्मदिन एवं किट्टी पार्टी का आयोजन भी हो सकेगा। पार्क के भीतर कृत्रिम झील बनाई गई है। झील में नौकायन की सुविधा उपलब्ध कराने पर काम चल रहा है यानी सैर-सपाटे के साथ नागरिकों को झील में नाव की सवारी का लुत्फ उठाने का अवसर मिल पाएगा। इसी क्रम में फूड कोर्ट की सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी जहां स्वादिष्ट व्यंजन चख सकेंगे। गाजियाबाद के अलावा नोएडा तक से नागरिक वहां घूमने आते हैं। मुखर्जी पार्क में शरारती बंदरों का डेरा भी है। सपरिवार घूमने आने पर बच्चे इन बंदरों को बड़े चाव से केले, मूंगफली व चने खिलाते हैं। नगर निगम का कहना है कि पार्क में फुटपाथ एवं पीछे की चारदीवार के सुधार का काम चल रहा है। खासकर युवाओं को यह स्थल काफी पसंद आता है। शनिवार और रविवार को वहां आगंतुकों की ज्यादा भीड़ रहती है। सुरक्षा की दृष्टि से सी.सी.टी.वी. कैमरे और सिक्योरिटी गार्डों की व्यवस्था की गई है। रात में यह स्थल लाइटों से जगमगा उठता है।

PunjabKesari Shyama Prasad Mukherjee Park

 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Editor

Prachi Sharma

Recommended News

Related News