मयूरवाहन पर विराजमान मां स्कंदमाता के भक्तों ने किए दर्शन

punjabkesari.in Saturday, Oct 01, 2022 - 11:15 AM (IST)

शास्त्रों की  बात, जानें धर्म के साथ
नई दिल्ली:
शारदीय नवरात्र मेले के पांचवें दिन मां दुर्गा के पांचवें स्वरूप मां स्कंदमाता के भक्तों ने दर्शन किए। इस दौरान मयूरवाहन पर विराजमान मां स्कंदमाता से भक्तों ने अपनी इच्छापूर्ति का वर मांगा। राजधानी के मंदिरों में पूरे दिन भक्त लंबी-लंबी कतारों में खड़े होकर मां के दर्शन करने के लिए पहुंचे। मालूम हो कि भगवान कार्तिकेय यानि स्कंदकुमार की माता होने की वजह से इन्हें स्कंद माता कहा जाता है।

माता के दर्शनों के लिए झंडेवाला मंदिर में भारी भीड़ देखने को मिली। मां का आशीर्वाद पाने के लिए भक्त पूरे उत्साह के साथ लाईनों में लगे हुए दिखाई दिए। मंदिर न्यास व प्रबंधन कमेटी की ओर से कार्यक्रमों का सीधा प्रसारण भी मंदिर के यूट्यूब चैनल व फेसबुक पर किया जा रहा है। वहीं छत्तरपुर मंदिर में मां स्कंद माता का श्रृंगार पूरे विधिपूर्वक किया गया। इस दौरान पूर्ण विधि से मां की पूजा-अर्चना की गई। भक्तों की लगातार बढ़ती भीड़ को देखते हुए मंदिर प्रशासन की ओर से अतिरिक्त सुरक्षा प्रबंध का इंतजाम भी किया गया है। वहीं आने वाले भक्तों को पैक्ड प्रसाद वितरित किया जा रहा है। इस दौरान मंदिर में दुर्गा सप्तशती व दुर्गा सहस्त्रनाम और दुर्गा चालीसा का पाठ भी किया जा रहा है। 
 

1100  रुपए मूल्य की जन्म कुंडली मुफ्त में पाएं । अपनी जन्म तिथि अपने नाम , जन्म के समय और जन्म के स्थान के साथ हमें 96189-89025 पर वाट्स ऐप करें
PunjabKesari

आज होगी मां कात्यायनी देवी की पूजा
अमरकोष में पार्वती के दूसरे नाम से विख्यात मां कात्यायनी की आज पूजा की जाएगी। मां कात्यायनी, मां दुर्गा का छठा स्वरूप हैं जिनका जिक्र विभिन्न पुराणों में मिलता है। इन्होंने ही महिषासुर का वध किया और महिषासुरमर्दिनी कहलाईं। मां कात्यायनी को लाल रंग प्रिय है। इस दिन साधक का मन आज्ञा चक्र में स्थित होता है। कात्यायन ऋर्षि की पुत्री होने की वजह से इनका नाम कात्यायनी पड़ा।
 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Jyoti

Related News

Recommended News