रमजान शुरू, कोरोना नियमों पर मस्जिदों में रहेगी सख्ती

2021-04-13T13:07:21.473

शास्त्रों की बात, जानें धर्म के साथ
नई दिल्ली: सउदी अरब में चांद दिखने के बाद अब मंगलवार को तरावीह (रमजान की विशेष नमाज) शुरू हो जाएगी और बुधवार को पहला रोजा रखा जाएगा। इबादत के पाक महीने रमजान की शुरुआत के बीच कोरोना के मामले भी बढ़े रहे हैं और कोरोना नियमों को लेकर मस्जिदों में भी ऐहतियात बरती जा रही है। पिछले साल की तरह से साल भी मस्जिदों से ये ऐलान किया जा रहा है कि बुजुर्ग, बच्चे घर पर रहें, भीड़ से बचें और नमाज व इ तारी भी घर पर ही करें।

जामा मस्जिद के शाही इमाम अहमद बुखारी ने कहा कि सरकार ने जो हिदायतें दी हैं, उसी के मुताबिक लोग जामा मस्जिद आ सकते हैं। मास्क पहनें, शारीरिक दूरी का ध्यान रखें, सेनेटाइजर जरूर रखें और खांसी, बुखार या कोई भी बीमारी हो तो घर पर ही रहें। शाही इमाम ने मस्जिद बंद करने की किसी संभावना पर कहा कि सरकार के निर्देशों के मुताबिक ही चलेंगे लेकिन अभी मस्जिद खुली हैं।  इस बाबत इमाम हाउस में हुई बैठक का हवाला देते हुए डॉ. इमाम उमेर अहमद इलियासी ने कहा कि दिल्ली के इमामों हालात पर काबू पाने के लिए सभी नियमों का कड़ाई से पालन करने, मास्क लगाने, जरूरत पडऩे पर ही घर से बाहर जाएं और कोरोना के चलते घर पर नमाज पढ़ें, मस्जिद जाने से व भीड़ से बचें।


Content Writer

Jyoti

सबसे ज्यादा पढ़े गए

Recommended News

static