पूर्व एस.एस.पी. राजिन्द्र सिंह करतारपुर के धार्मिक स्थानों पर हुए नतमस्तक

punjabkesari.in Monday, Dec 04, 2023 - 07:55 AM (IST)

शास्त्रों की बात, जानें धर्म के साथ

करतारपुर (साहनी): करीब 3 दशकों तक कांग्रेस का गढ़ माने जाते रहे करतारपुर विधानसभा क्षेत्र पर पहले अकाली दल ने सेंध लगाई व फिर कांग्रेस ने इस सीट पर कब्जा किया परंतु गत विधानसभा चुनावों में आम आदमी पार्टी के उम्मीदवार बलकार सिंह ने कड़ी मेहनत करके इस क्षेत्र से शानदार जीत हासिल की व इस क्षेत्र में ‘आप’ पार्टी द्वारा शुरू की गई राजनीतिक घेराबंदी के बीच प्रमुख राजनीतिक दलों चाहे कांग्रेस हो, अकाली-बसपा या भाजपा की गतिविधियां काफी धीमी या बंद सी हो गई थी।

इस बीच गत दिनों पुलिस प्रशासन से सेवानिवृत्त होकर कांग्रेस से जुड़े राजिन्द्र सिंह आज वरिष्ठ कांग्रेस नेताओं के साथ करतारपुर पहुंचे व उन्होंने पहले गुरुद्वारा गंगसर साहिब, भगवान वाल्मीकि मंदिर, गुरु रविदास मंदिर, माता शीतला मंदिर में माथा टेका। इस दौरान उनका कांग्रेस नेताओं ने गांवों में बैठके करके स्वागत किया व अब नेता भी पार्टी में शामिल होने पर उत्साहित हैं। इस मौके उनके साथ ब्लाक कांग्रेस अध्यक्ष अमरजीत सिंह कंग, निर्मल सिंह गाखल, कमलजीत ओहरी, जगदीश लाल जग्गा, जसप्रीत जस्सी भुल्लर, गुरप्रीत सिंह सरोए, रघुबीर सिंह गिल, गोपाल सूद, भीमसेन जगोता, नाथी सनौत्रा सहित बड़ी संख्या में कांग्रेस नेता थे।

इसी दौरान आज इसी क्षेत्र के पूर्व विधायक चौधरी सुरेन्द्र सिंह ने भी आगामी पंचायती व लोकसभा चुनावों से संबंधित बैठकों का दौर आज अपने गांव धारीवाल कादियां से शुरू किया जिसमें भी बड़ी संख्या में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता व पदाधिकारी शामिल हुए। 

उन्होंने कहा कि आगामी दिनों में इसी तरह बैठकें क्षेत्र के अन्य गांवों में भी की जाएंगी। आज एक ही दिन कांग्रेस के 2 नेताओं द्वारा शुरू की गई राजनीतिक गतिविधियों के बीच कांग्रेस वर्कर भी बंटे हुए नजर आए। ऐसे हालात में कांग्रेस हाईकमान पार्टी को एकजुट करने में कामयाब होगी, यह सवालिया निशान आज दोनों नेताओं द्वारा की बैठकों से लग रहा है।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Niyati Bhandari

Recommended News

Related News