Chanakya Niti: पशु-पक्षियों से सीखने चाहिए हर किसी को ये गुण

2021-01-19T11:47:00.567

चाणक्य ने अपनी नीति में ऐसी बहुत सी बातों के बारे में जानकारी दी है, जोकि हर एक व्यक्ति के लिए अपने जीवन में उतारनी बेहद जरूरी है। वहीं आचार्य ने इंसान के जीवन को आसान बनाने के लिए कई नीतियों के बारे में बताया है। कहते हैं कि इन नीतियों को जो अपनाते हैं, उन्हें जीवन में अपार सफलता हासिल होती है। सफलता के रास्ते को आसान बनाने के लिए चाणक्य ने नीति शास्त्र में पशु-पक्षियों से सीखे जाने वाले गुणों का भी जिक्र किया है। आइए जानते हैं-
PunjabKesari
बगुला
चाणक्य कहते हैं कि व्यक्ति को बगुले की तरह ही अपनी इंद्रियों पर संयम रखते हुए अपनी शक्ति या क्षमता के हिसाब से काम काम करना चाहिए।
PunjabKesari
मुर्गा
चाणक्य नीति के अनुसार, व्यक्ति को मुर्गे की तरह ही सूर्योदय से पहले उठना चाहिए। रण में पीछे न हटते हुए हटकर मुकाबला करना चाहिए। परिवार या प्रियजनों में मिल बांट कर खाना चाहिए।
PunjabKesari
कौआ
चाणक्य कहते हैं कि इंसान को कौए की भांति हर वक्त सतर्क और सावधान रहना चाहिए। इसके साथ ही समय-समय पर अपने लिए चीजें भी जुटाना चाहिए।
PunjabKesari
श्वान
चाणक्य के अनुसार, हर इंसान को कुत्ते से स्वामी भक्ति का गुण सीखना चाहिए। इसके साथ ही श्वान निद्रा लेनी चाहिए, ताकि आहट मिलते ही आपकी आंख खुल जाए।
PunjabKesari
शेर
हर व्यक्ति को शेर की भांति कोई भी काम पूरी शक्ति या ताकत से करना चाहिए। जिस तरह से शेर अपने शिकार पर पूरी ताकत से हमला करता है, चाहे वह छोटा पशु या पक्षी ही क्यों न हो। उसी तरह से व्यक्ति को अपने काम में सफलता पाने के लिए अपनी पूरी शक्ति का इस्तेमाल करना चाहिए।


Content Writer

Lata

सबसे ज्यादा पढ़े गए

Recommended News