1 जुलाई से बदल जाएंगे ये जरूरी नियम, आपकी जेब पर पड़ेगा असर

punjabkesari.in Monday, Jun 27, 2022 - 06:34 PM (IST)

बिजनेस डेस्कः एक जुलाई से आर्थिक लेन-देन से जुड़े कई नियम बदल जाएंगे। इनमें से कुछ नियमों का भार आपके जेब पर भी पड़ेगा। एक जुलाई से होने वाले परिवर्तनों से क्रेडिट और डेबिट कार्ड इस्तेमाल, क्रिप्टोकरेंसी निवेशक और पैन कार्ड धारक भी प्रभावित होंगे। इसलिए, जुलाई से लागू होने वाले नए नियमों की जानकारी रखना आपके लिए जरूरी है। आइए जानते हैं कौन-कौन से ऐसे बदलाव हैं, जो आप पर असर डालेंगे...

आधार-पैन लिंक
अगर आपने अभी तक अपना आधार-पैन कार्ड लिंक नहीं किया है तो अब आपके पास केवल एक हफ्ते ही बचे हैं।  अपने आधार को पैन से फटाफट लिंक करा लें। आधार पैन को लिंक करने की आखिरी तारीख 30 जून है। आपको बता दें कि अगर आप 30 जून से पहले यह काम करवा लेते हैं तो आपको 500 रुपए जुर्माना देना होगा लेकिन उसके बाद आपको दोगुना हर्जाना देना होगा।

क्रिप्टो निवेशकों को देना होगा TDS 
1 जुलाई से क्रिप्टोकरेंसी के निवेशकों को बड़ा झटका लगने वाला है। अगले महीने से सभी क्रिप्टो के ट्रांजैक्शन पर 1 फीसदी टीडीएस का भुगतान करना होगा। फिर चाहे उसे मुनाफे में बेचा गया हो या नुकसान में। आपको बता दें कि साल 2022-23 से क्रिप्टोकरेंसी से होने वाले इनकम पर 30 फीसदी टैपिटल गेन टैक्स लगाने का फैसला किया है। अब 1 जुलाई से क्रिप्टो के लेन देन पर 1 फीसदी टीडीएस का भी भुगतान करना होगा। 

1 जुलाई से महंगे होने वाले हैं AC
अगले महीने से आपको एयर कंडीशनर खरीदना महंगा पड़ेगा। दरअसल, BEE यानी Bureau of Energy Efficiency ने एयर कंडीशनर्स के लिए एनर्जी रेटिंग रूल्स में बदलाव कर दिया है। यह बदलाव 1 जुलाई से  लागू होगा। इसका मतलब है कि 1 जुलाई से 5-स्टार एसी की रेटिंग सीधे 4-स्टार हो जाएगी। नई एनर्जी एफिशिएंसी दिशानिर्देशों के परिणामस्वरूप, भारत में एसी की कीमतों में आने वाले समय में 7-10 प्रतिशत की वृद्धि होने की उम्मीद है। 

1 जुलाई से बदल जाएगी ऑफिस की टाइमिंग
देश में 4 लेबर कोड (श्रम संहिता) के लागू करने की प्रक्रिया अंतिम चरण में है। अगर सबकुछ ठीक रहा तो 1 जुलाई से लेबर कोड के नए नियम लागू हो जाएंगे। इसके लागू होने के साथ ही इन हैंड सैलरी, कर्मचारियों की ऑफिस टाइमिंग, पीएफ कंट्रीब्युशन के अलावा ग्रेच्युटी आदि पर असर पड़ने की संभावना है।  प्रस्ताव के मुताबिक,  कामकाज के अधिकतम घंटों को बढ़ाकर 12 करने का प्रस्ताव पेश किया है। कर्मचारियों को 4 दिन में 48 घंटे यानी हर दिन 12 घंटे काम करना होगा। कर्मचारियों को हर पांच घंटे के बाद आधा घंटे का विश्राम का भी प्रस्ताव है। 

बिना KYC वाले डीमैट अकाउंट हो जाएंगे निष्क्रिय
डीमैट और ट्रेडिंग अकाउंट के लिए केवाईसी कराने की अंतिम तिथि 30 जून 2022 है। जिन खातों की इस तारीख तक ईकेवाईसी नहीं होगी वे निष्क्रिय हो जाएंगे और एक जुलाई से ऐसे अकाउंट की मदद से शेयर ट्रेडिंग नहीं होगी। डीमैट अकाउंट में शेयर और सिक्योरिटीज़ रखने के लिए सुविधा दी जाती है। ऐसे में अगर 30 जून तक आपके अपने डीमैट अकाउंट और ट्रेडिंग अकाउंट की केवाईसी प्रक्रिया पूरी नहीं की तो 30 जून के बाद आपको परेशानी हो सकती है। 

दोपहिया वाहनों की कीमतें बढ़ेंगी
1 जुलाई से दोपहिया वाहनों की दिग्गज कंपनी हीरो मोटोकॉर्प ने अपने वाहनों की कीमत में बढ़ोतरी का पहले ही घोषणा कर दी है। कंपनी के वाहन 3,000 रुपए तक महंगे हो जाएंगे। कंपनी का कहा है कि लगातार बढ़ रही महंगाई के कारण कंपनी को यह फैसला लेना पड़ा है। हीरो मोटोकॉर्प की तरह दूसरी कंपनियां भी अपने वाहनों की कीमतें बढ़ा सकती हैं।

डेबिट और क्रेडिट कार्ड की डिटेल नहीं कर पाएंगे सेव
एक जुलाई से पेमेंट गेटवे, मर्चेंट, पेमेंट एग्रीगेटर और अधिग्रहण करने वाले बैंक कार्ड डिटेल सेव नहीं कर पाएंगे। इस नियम के लागू हो जाने के बाद से ई-कॉमर्स कंपनियां अपने ग्रहकों की कार्ड डिटेल्स अपने पास सुरक्षित नहीं रख पाएंगे। इससे आम उपभोक्‍ता के डेटा की सुरक्षा होगी।

बदल जाएंगे TDS के नियम
1 जुलाई 2022 से बिजनेस से प्राप्त गिफ्ट पर 10 फीसदी की दर से TDS देना होगा। ये टैक्स सोशल मीडिया इन्फ्लुएंसर और डॉक्टरों पर लागू होगा। सोशल मीडिया इन्फ्लुएंसर्स को तब टीडीएस देना होगा, जब वे कंपनी द्वारा उन्‍हें मार्केटिंग के उद्देश्य से दिए गए प्रोडक्‍ट अपने पास रखते हैं। अगर वे प्रोडक्‍ट को वापस लौटा देते है तो टीडीएस नहीं देना होगा।
 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

jyoti choudhary

Related News

Recommended News