SBI ने ग्राहकों को दिया झटका, होम लोन पर बढ़ाई ब्याज दर

2021-04-05T13:41:20.413

बिजनेस डेस्कः देश के सबसे बड़े सरकारी बैंक भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) ने आम आदमी को झटका दिया है। एक अप्रैल 2021 से होम लोन की न्यूनतम ब्याज बढ़ गई है। एसबीआई की वेबसाइट के अनुसार, ग्राहकों के लिए इस महीने से होम लोन की न्यूनतम दर 6.95 फीसदी हो गई है। पिछले महीने तक यह 6.70 फीसदी थी यानी इसमें 25 आधार अंक या 0.25 फीसदी की बढ़ोतरी की गई है। 

PunjabKesari

यह भी पढ़ें- काम की खबरः बैंक को बदलने ही होंगे ATM से निकलें कटे-फटे नोट, इनकार करने पर जुर्माना

बैंक की वेबसाइट पर बताया गया है कि होम लोन एक्सटर्नल बेंचमार्क-लिंक्ड रेट (EBLR) से अधिक अंक ऊपर उपलब्ध है। ईबीएलआर रेपो रेट से जुड़ा है, जो भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) तय करता है। मौजूदा समय में ईबीएलआर 6.65 फीसदी है। बैंक इस पर अतिरिक्त क्रेडिट रिस्क प्रीमियम लेता है, जिसके बाद होम लोन सात फीसदी पर उपलब्ध हैं। महिलाओं को इसमें पांच आधार अंकों की छूट मिलेगी। उनके लिए यह दर 6.95 फीसदी है। 

PunjabKesari

यह भी पढ़ें- कोरोना का असर: 7 महीने के निचले स्तर पर मैन्युफैक्चरिंग गतिविधियां, मार्च में 55.4 रहा PMI

अन्य बैंक भी उठा सकते हैं कदम 
पिछले महीने तक एसबीआई ने सीमित अवधि के लिए 75 लाख रुपए तक का होम लोन 6.70 फीसदी ब्याज पर देने की पेशकश की थी। वहीं 75 लाख से पांच करोड़ रुपए के आवास ऋण पर ब्याज दर 6.75 फीसदी थी। एसबीआई द्वारा आवास ऋण की न्यूनतम दरों को बढ़ाए जाने के बाद अन्य बैंक भी इसी तरह कदम उठा सकते हैं।  

PunjabKesari

इतना लगेगा प्रोसेसिंग शुल्क 
बैंक ने आवास ऋण पर एकीकृत प्रोसेसिंग शुल्क भी लगाया है। यह ऋण की राशि का 0.40 फीसदी और माल एवं सेवा कर (जीएसटी) के रूप में होगा। प्रोसेसिंग शुल्क न्यूनतम 10,000 रुपए और अधिकतम 30,000 रुपए (और जीएसटी) होगा। पिछले महीने एसबीआई ने आवास ऋण पर प्रोसेसिंग शुल्क 31 मार्च तक माफ करने की घोषणा की थी। 


Content Writer

jyoti choudhary

सबसे ज्यादा पढ़े गए

Recommended News

static