रिलायंस इंडस्ट्री बना दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा ब्रांड, एप्पल पहले नंबर पर

2020-08-06T16:32:55.54

नई दिल्ली: उद्योगपति मुकेश अंबानी के नेतृत्व वाली रिलायंस इंडस्ट्री ‘फ्यूचरब्रांड सूचकांक 2020’ में एप्पल के बाद दुनिया का दूसरा सबसे ब्रांड बन गया है। रिलायंस इंडस्ट्रीज रिफाइनरी, खुदरा और दूरसंचार क्षेत्र में काम करने वाली प्रमुख कंपनी है।

PunjabKesari
फ्यूचरब्रांड ने 2020 की सूची को जारी करते हुए कहा इस सबसे लंबी छलांग दूसरे स्थान के लिए लगायी है। रिलायंस इंडस्ट्री हर पैमाने पर खरी उतरी। रिपोर्ट में रिलायंस के बारे में कहा गया है कि यह भारत की सबसे अधिक लाभ कमाने वाली कंपनियों में से एक हैं। कंपनी की ‘बहुत अधिक इज्जत’ है और ‘नैतिक रूप से काम करती है।’ इसी के साथ कंपनी ‘नवोन्मेषी उत्पाद’, ‘ग्राहकों को बेहतर अनुभव’ और ‘वृद्धि’ से जुड़ी है। लोगों का कंपनी के साथ एक ‘मजबूत भावनात्मक’ रिश्ता है।

PunjabKesari
फ्यूचरब्रांड एक वैश्विक ब्रांड बदलाव कंपनी है। यह पिछले छह साल से यह सूचकांक पेश कर रही है। उसने कहा कि रिलायंस की सफलता का श्रेय अंबानी को दिया जाना चाहिए। उन्होंने कंपनी को भारतीयों के लिए ’एक मेगास्टोर’ की तरह ‘वन स्टॉप’ दुकान के तौर पर नयी पहचान दी है।

PunjabKesari
रिपोर्ट में कहा गया है, ‘आज कंपनी ऊर्जा, पेट्रोरसायन, कपड़ा, प्राकृतिक संसाधन, खुदरा और दूरसंचार क्षेत्र में काम करती है। गूगल और फेसबुक ने उसमें हिस्सेदारी खरीदी है। हमें उम्मीद है कि अगले सूचकांक में कंपनी शीर्ष पर होगी। इस सूची में एप्पल सबसे शीर्ष पर है। जबकि सैमसंग तीसरे स्थान, एनवीडिया चौथे, मोताई पांचवे, नाइकी छठे, माइक्रोसॉफ्ट सातवें, एएसएमएल आठवें, पेपाल नवें और नेटफ्लिक्स दसवें स्थान पर है।



 


Author

rajesh kumar

Related News