See More

कोरोना वायरस की दवा विकसित करने के लिए Paytm ने उठाया ये कदम, सुनकर करेंगे तारीफ

2020-03-22T17:50:10.483

नई दिल्लीः डिजिटल भुगतान से जुड़ी कंपनी पेटीएम ने कोरोना वायरस की दवा विकसित करने के लिए भारतीय शोधकर्ताओं को पांच करोड़ रुपए देने की बात कही है। पेटीएम के संस्थापक और सीईओ विजय शेखर शर्मा ने रविवार को ट्वीट किया, "हमें अधिक संख्या में भारतीय नवोन्मेषकों, शोधकर्ताओं की जरूरत है जो वेंटिलेटर की कमी और कोविड के इलाज के लिए देशी समाधान खोज सकें। पेटीएम संबंधित चिकित्सा समाधानों पर काम करने वाले ऐसे दलों को पांच करोड़ रुपए देगा।" 

PunjabKesari

उन्होंने आईआईएससी के प्राध्यापक गौरव बनर्जी के एक संदेश पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए यह बात कही। बनर्जी ने अपने संदेश में किसी आपातकालीन स्थिति में देशी तकनीक का इस्तेमाल कर वेंटिलेटर बनाने की बात कही थी। बनर्जी ने अपने संदेश में कहा है कि उनकी एयरोस्पेस, इलेक्ट्रिकल और इलेक्ट्रानिक्स इंजीनियर्स की एक छोटी टीम भारतीय सामग्री का इस्तेमाल करते हुए एक वेंटीलेटर नमूना तैयार करने का प्रयास कर रही है। यह काम कोविद- 19 के दौरान आपात स्थिति को देखते हुए किया जा रहा है। 

PunjabKesari

शर्मा ने कहा कि उन्होंने अपने ट्विटर में सीधे संदेश भेजने का विकल्प खुला रखा है। इसमें संभावित टीम और नवीन खोज करने वालों की सूचना प्राप्त की जा सकती है। देश के विभिन्न भागों से कोरोना वायरस के नए मामले सामने आने के बाद संक्रमण ग्रस्त लोगों की संख्या 324 तक पहुंच गई है।

PunjabKesari

 


jyoti choudhary

Related News