See More

दिल्ली के आसपास होगा प्याज का भंडारण

2019-11-14T12:23:59.21

नई दिल्लीः राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में प्याज के मूल्य में हुई भारी वृद्धि से सबक लेते हुए उपभोक्ता मामलों के विभाग ने बफर स्टाक के लिए प्याज का भंडारण दिल्ली के आसपास के आधुनिक कोल्ड स्टोरेज में करने का निर्णय लिया है। आधिकारिक सूत्रों के अनुसार अगले रबी मौसम के दौरान रेलवे की कॉनकोर की सहायक कम्पनी कोल्ड स्टोरेज फेसिलीटी ऑफ फ्रेस एंड हेल्दी इंटर प्राइजेज के नवीनतम तकनीक वाले कोल्ड स्टोरेज में प्याज का भंडारण करने का निर्णय लिया है।

रबी मौसम के दौरान पायलट परियोजना के तौर पर कम्पनी के हरियाण के राई स्थित कोल्ड स्टोरेज में पांच हजार टन प्याज का भंडारण किया जाएगा। नई तकनीक वाले इस कोल्ड स्टोरेज में भंडारण लागत कम है और प्याज में नमी का नुकसान भी परम्परागत कोल्ड स्टोरेज की तुलना में कम है। इससे राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में प्याज की किल्लत होने पर यहां से तुरंत आपूर्ति की जा सकेगी। राजधानी में प्याज की कमी को पूरा करने के लिए नेफेड ने राजस्थान के अलवर में इसकी खरीद तेज कर दी है। नेफेड ने कल 52 टन प्याज की खरीद की थी। इससे पहले दो दिन 30 टन और 26 टन प्याज की खरीद की गई थी।

नेफेड को गुजरात और महाराष्ट्र में 20 हजार टन प्याज खरीदने को कहा गया है। इसके अलावा एमएमटीसी के माध्यम से एक लाख टन प्याज का आयात भी किया जा रहा है जिसके 15 दिसम्बर के पहले बाजार में आ जाने की उम्मीद है। सूत्रों के अनुसार दिल्ली सरकार ने प्रतिदिन 150 टन प्याज की मांग की है जबकि झारखंड ने प्रतिदिन दो ट्रक, तमिलनाडु ने एक ट्रक, पश्चिम बंगाल ने दो ट्रक और उत्तर प्रदेश ने दो ट्रक प्याज की मांग की है। सूत्रों के अनुसार प्याज के मूल्य में कमी आनी शुरु हो गई है। 


Supreet Kaur

Related News