सरकार का महिला कर्मचारियों के लिए बड़ा ऐलान, बदल दिए ये नियम

2020-12-01T17:24:29.397

बिजनेस डेस्कः कोरोना काल के दौरान कामकाज के तौर-तरीके काफी बदल गए हैं। इसी बीच श्रम मंत्रालय ने भी महिलाओं के लिए कई बड़े ऐलान किए हैं। इसमें सैलरी से लेकर काम करने के तरीके में बदलाव करने का प्लान बनाया है। आपको बता दें श्रम मंत्रालय ने संसद में नए श्रम कोड का प्रस्ताव दिया है, जिसके पास होने के बाद से चीजें पहले से ज्यादा व्यवस्थित हो सकेंगी। नए लेबर कोड से सबसे ज्यादा फायदा महिला श्रमिकों को होगा।

यह भी पढ़ें-  LPG गैस से लेकर बैंकों के लेनदेन तक आज से बदले कई नियम, चलाई जाएंगी ये नई ट्रेनें

बता दें इस प्रस्ताव के मुताबिक उन्हें खनन (Mining) समेत कई अन्य क्षेत्रों में काम की आजादी मिल सकती है। इतना ही नहीं वेतन के मामले में भी उन्हें पुरुषों के बराबर दर्जा दिए जाने की बात कही गई है। इसके अलावा आधार लिंक्ड खातों में डिजिटल भुगतान से महिलाओं को एक समान वेतन और न्यूनतम मजदूरी सुनिश्चित की गई है। इससे कामकाजी महिलाओं को काफी फायदा मिलेगा।

यह भी पढ़ें-  सरकार ने जारी किए आंकड़े, नवंबर में लगातार दूसरे महीने एक लाख करोड़ के ऊपर रहा GST संग्रह

महिला श्रमिको को सभी क्षेत्र जैसे कि खनन, निर्माण आदि में भी काम करने की अनुमति मिलेगी। अभी तक महिला श्रमिकों को खनन और निर्माण जैसे क्षेत्रों में काम करने की अनुमति नहीं थी। इसमें केवल पुरुष श्रमिक ही काम कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें- 5 महीने के निचले स्तर पर पहुंची सोने की कीमतें, जानें चांदी में कितनी आई गिरावट

सभी को एक समान वेतन का प्रावधान, अब डिजिटल भुगतान के माध्यम से महिलाओं को कम वेतन मिलने की चिंता से मुक्ति मिलेगी। इसके अलावा अभी तक देश में असंगठित क्षेत्रों में पुरुषों के मुकाबले महिला श्रमिकों को कम वेतन दिया जाता था लेकिन नए श्रम कोड से वेतन में होने वाला भेदभाव भी खत्म होगा। अब पुरुष और महिला श्रमिकों को एक समान वेतन देने का प्रावधान होगा। वेतन सीधे योग्य व्यक्ति को मिले इसलिए डिजिटल भुगतान का प्रावधान होगा, इससे घपलेबाजी की आशंका नहीं रहेगी।


jyoti choudhary

Recommended News