बजट: क्रॉप लाइफ की कृषि रसायनों पर GST दरों में कटौती की मांग

2021-01-22T16:57:22.127

नई दिल्लीः उद्योग निकाय क्रॉपलाइफ इंडिया ने आगामी केंद्रीय बजट में कृषि रसायनों पर माल एवं सेवा कर (जीएसटी) की दर को घटाकर 12 प्रतिशत करने की मांग की है। उद्योग मंडल ने बृहस्पतिवार को बयान में कहा कि जीएसटी की दर कम होने से कृषि रसायनों (एग्रोकेमिकल्स) की कीमतों को कम करने में मदद मिलेगी और किसानों को फायदा होगा। एग्रोकेमिकल्स पर वर्तमान में जीएसटी दर 18 प्रतिशत है।

क्रॉपलाइफ इंडिया के मुख्य कार्यपालक अधिकारी (सीईओ) असित्व सेन ने कहा, ‘‘सरकार को जीएसटी के तहत अनिवार्यताओं को भी सरल करना चाहिए और कंपनियों को किसी राज्य में कर देयता स्थिति के बदले दूसरे राज्य के इनपुट क्रेडिट को समायोजित करने की अनुमति देनी चाहिए।'' इसके अलावा, उद्योग निकाय ने सरकार से एग्रोकेमिकल कंपनियों द्वारा अनुसंधान एवं विकास व्यय पर 200 प्रतिशत भारित कटौती प्रदान करके अनुसंधान और विकास (आरएंडडी) पर ध्यान केंद्रित करने का आग्रह किया, जिससे पूरे देश में किसानों को लाभ होगा। 

सेन ने कहा, ‘‘सरकार उन इकाइयों को यह प्रदान करने पर विचार कर सकती है, जिनके पास 50 करोड़ रुपए की न्यूनतम अचल संपत्ति है और जो 10 करोड़ रुपए का खर्च कर रही हैं।'' उद्योग ने यह भी मांग की कि सरकार तकनीकी कच्चे माल और तैयार उत्पादों दोनों पर एक समान मूल सीमा शुल्क 10 प्रतिशत बनाए रखे। क्रॉपलाइफ इंडिया फसल सुरक्षा में शोध और विकास आधारित सदस्य कंपनियों का एक संघ है। केंद्रीय बजट एक फरवरी को वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा पेश करेंगी। संसद का बजट सत्र 29 जनवरी से शुरू होगा। 


Content Writer

jyoti choudhary

सबसे ज्यादा पढ़े गए

Recommended News