‘नहीं थम रही गुंडागर्दी’ ‘सत्ताधारियों और उनके सगे-संबंधियों की’

punjabkesari.in Friday, Aug 12, 2022 - 03:50 AM (IST)

सत्ता से जुड़े चंद लोगों, राजनीतिज्ञों और उनके परिजनों से आशा की जाती है कि वे कोई भी कानून विरोधी कार्य नहीं करेंगे और आम लोगों की मुश्किलें सुलझाने में मदद करेंगे, परंतु स्थिति इससे भिन्न ही है। केंद्र तथा देश के अधिकांश राज्यों में सत्तारूढ़ भाजपा, जिससे जुड़े लोगों को अत्यंत अनुशासित माना जाता है, के चंद सदस्य भी इस तरह की गतिविधियों में संलिप्त पाए जा रहे हैं, जिसके चंद उदाहरण निम्र हैं : 

* 21 अप्रैल को बरेली (उत्तर प्रदेश) में भाजपा नेता प्रदीप अग्रवाल की कार से 2 युवकों की मोटरसाइकिल टकरा जाने पर प्रदीप अग्रवाल ने अपनी लाइसैंसी पिस्तौल से उन पर गोली चला दी जिससे एक युवक गंभीर रूप से घायल हो गया। 
* 27 जून को पीलीभीत (उत्तर प्रदेश) में नैशनल हाईवे पर हूटर बजाते जा रहे अमरिया भाजपा ब्लाक प्रमुख श्याम सिंह को आगे कार में जा रहे एक डाक्टर द्वारा साइड देने में देर हो जाने पर श्याम सिंह तथा उसके साथियों ने पहले तो डाक्टर को पकड़ कर अपनी कार में डाल कर उसके अपहरण का प्रयास किया और फिर बीच सड़क में ही कार रोक कर चप्पलों से उनकी पिटाई करने के अलावा उनकी कार की चाबी तथा मोबाइल भी छीन लिया। 

* 26 जुलाई को भाजपा की मेघालय इकाई के उपाध्यक्ष ‘बर्नाड एन. मराक’ उर्फ ‘तूरा के. रिंपू’ को अपने फार्म हाऊस में वेश्यालय चलाने के आरोप में उत्तर प्रदेश से गिरफ्तार किया गया। इससे पूर्व 22 जुलाई को उसके फार्म हाऊस पर छापा मार कर पुलिस ने 6 नाबालिगों को मुक्त करवाने के अलावा 73 लोगों को इस मामले में गिरफ्तार किया था और तभी से वह फरार था।
* 31 जुलाई को बरेली (उत्तर प्रदेश) के ‘ख्वाजा कुतब’ इलाके में उत्तर प्रदेश के आबकारी मंत्री नितिन अग्रवाल के करीबी भाजपा नेता जितेंद्र रस्तोगी तथा उसके साथियों ने किसी विवाद के चलते एक महिला तथा उसकी बेटी को उनके घर से बाहर घसीट कर पीटा।
* 4 अगस्त को जालौर (राजस्थान) के  राजापुरा गांव में रवि नाथ नामक एक संत ने आत्महत्या कर ली। सुसाइड नोट में संत ने भाजपा विधायक ‘पूरा राम चौधरी’ द्वारा उन पर अपनी जमीन देने का दबाव बनाने का आरोप लगाया। 

* 6 अगस्त को हरिद्वार (उत्तराखंड) में ज्वालापुर के खन्ना नगर में भाजयुमो नेता विष्णु अरोड़ा ने किसी विवाद के चलते तिरंगा यात्रा में शामिल भाजयुमो के नेता दीपक टंडन को पीट डाला। 
* 6 अगस्त को ही नोएडा (उत्तर प्रदेश) की ‘ओमैक्स सोसायटी’ में  मामूली विवाद पर एक महिला को भद्दी गालियां निकालने तथा उस पर हाथ उठाने वाले भाजपा नेता श्रीकांत त्यागी तथा उसके 3 साथियों को सुरक्षा बलों ने 9 अगस्त को मेरठ से गिरफ्तार कर लिया, जिसके बाद उसने पलटते हुए कहा कि पीड़िता तो मेरी बहन जैसी है। 
श्रीकांत त्यागी पर महिला को ऐसी गंदी गालियां बकने का आरोप है जिनकी अनुमति सभ्य समाज नहीं देता। उसने कहा,‘‘दो कौड़ी की शक्ल लेकर आ गई... मा...तेरी हैसियत जानता हूं मैं...तू भाग कर आई थी न...’’ 

* 8 अगस्त को उत्तर प्रदेश के कुटीर, लघु एवं मध्यम उद्योग मंत्री राकेश सचान को अवैध रूप से हथियार रखने के मामले में कानपुर की एक अदालत ने एक वर्ष कैद और 1500 रुपए जुर्माने की सजा सुनाई। 
* 9 अगस्त को रीवा (मध्य प्रदेश) के ‘अमहिया’ क्षेत्र में एक सेवानिवृत्त सैलून संचालक पूर्व सैनिक दिनेश मिश्रा की दुकान में घुस कर उससे मारपीट करने तथा दुकान में तोडफ़ोड़ करने के मामले में पुलिस ने भाजपा युवा मोर्चा के नगर अध्यक्ष रितुराज चतुर्वेदी के विरुद्ध केस दर्ज कर लिया। पुलिस के अनुसार भाजपा नेता का सैलून संचालक के साथ पुराना विवाद था। 

* 10 अगस्त को सुबह उज्जैन (मध्य प्रदेश) स्थित ‘ज्योतिॄलग महाकाल मंदिर’ में भारतीय जनता युवा मोर्चा (भाजयुमो) के कार्यकत्र्ताओं ने हंगामा किया और सुरक्षा व्यवस्था का उल्लंघन करके ‘नंदी हाल’ में प्रवेश कर गए। इस दौरान उन्होंने कुछ सुरक्षा कर्मियों से दुव्र्यवहार भी किया। उक्त घटनाओं से स्पष्टï है कि अनुशासित समझी जाने वाली भारतीय जनता पार्टी में मौजूद चंद नेतागण किस प्रकार अपनी पोजीशन का अनुचित लाभ उठा कर पार्टी की प्रतिष्ठा को आघात पहुंचा रहे हैं और अपनी पार्टी के लिए परेशानी का कारण बन रहे हैं।—विजय कुमार  


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Related News

Recommended News