मानसून पूर्व नैनीताल जिला प्रशासन ने तैयारियों का लिया जायजा

Wednesday, June 7, 2017 8:37 PM
मानसून पूर्व नैनीताल जिला प्रशासन ने तैयारियों का लिया जायजा

नैनीताल: मानसून पूर्व आपदा प्रबंधन तैयारियों, बाढ़ नियंत्रण एवं भूमि कटाव के संबंध में जिलाधिकारी दीपेन्द्र कुमार चौधरी की अध्यक्षता में कलक्ट्रेट सभागार में बैठक आयोजित की गई। जिलाधिकारी ने कहा कि कोई भी अधिकारी वर्षाकाल में बिना बताए अपना मुख्यालय नहीं छोड़ेंगे।

उन्होंने कहा कि नदी, नालों व संवेदनशील स्थानों पर रहने वाले लोगों को अनिवार्य रूप से सुरक्षित स्थानों पर जाने हेतु नोटिस उपलब्ध कराए जाएं। उन्होंने कहा तहसील स्तर पर बनाए गए आपदा कन्ट्रोल रूम चैबीस घंटे संचालित हों व वहां कार्मिकों की तैनाती की जाए। उन्होंने कहा कि कन्ट्रोल रूमों में फोन, फैक्स व मेल की उपलब्धता होनी चाहिए।

उन्होंने कहा कि आपदा के मद्देनजर प्रत्येक गावों के 10-10 व्यक्तियों का मोबाइल नंबर होने चाहिए ताकि आपदा के समय गांव के लोगों से संपर्क किया जा सके। जिलाधिकारी ने कहा आपदा के समय राहत कैंपों, राहत शिविरों, पशु शिविरों आदि के लिए जगह का चिन्हिकरण अभी से कर लिया जाए।

जिलाधिकारी ने मुख्य चिकित्साधिकारी को निर्देश देते हुए कहा कि सभी स्वास्थ केन्द्रों पर आवश्यक दवाओं के साथ सर्पदंश व कुत्ते के काटने के उपचार हेतु एनटी रेबीज होने आवश्यक हैं। उन्होंने कहा कि बाढ़ क्षेत्रों में गोताखोर की तैनाती भी की जाय साथ ही उन क्षेत्रों में राहत कार्यो हेतु अस्थाई हैलीपैड भी चिन्हित किए जाएं।



विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !