बुलेट ट्रेन फाउंडेशन: शिंजो बोले-'जय इंडिया जय जापान', मोदी ने आबे को बताया 'बेस्ट फ्रैंड'

Thursday, September 14, 2017 8:56 AM
बुलेट ट्रेन फाउंडेशन: शिंजो बोले-'जय इंडिया जय जापान', मोदी ने आबे को बताया 'बेस्ट फ्रैंड'

अहमदाबाद: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे ने आज अहमदाबाद से मुंबई के बीच चलने वाली भारत की पहली बुलेट ट्रेन के लिए आधारशिला रखी। इस अवसर पर जापान के प्रधानमंत्री आबे ने कहा कि भारत-जापान साझेदारी खास, रणनीतिक और वैश्विक है।
PunjabKesari
दूरदर्शी हैं पीएम मोदी-आबे
अहमदाबाद के साबरमती में परियोजना की आधारशिला रखने के बाद आबे ने कहा, ‘‘मजबूत भारत जापान के हित में है और मजबूत जापान भारत के हित में है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘मेरे अच्छे मित्र प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी दूरद्रष्टा नेता हैं। उन्होंने दो वर्ष पहले हाई-स्पीड ट्रेन को भारत में लाने और नया भारत बनाने का फैसला लिया था।’’ आबे ने कहा, ‘‘कुछ वर्षों में जब मैं यहां वापस आऊं तो आशा करता हूं कि बुलेट ट्रेन की खिड़कियों से भारत के सुन्दर नजारे देखूंगा।’’ बुलेट ट्रेन का शिलान्यास करने के बाद जापानी पीएम आबे ने नमस्कार से अपने भाषण की शुरुआत की और अंत में भी हिंदी में धन्यवाद कहा।

PunjabKesari

बुलेट से रोजगार और रफ्तार दोनों- मोदी
पीएम मोदी ने अपने भाषण में आबे का धन्यवाद किया। उन्होंने कहा कि भारत में पहली बुलेट ट्रेन का श्रेय मित्र आबे को जाता है। पीएम ने कहा कि एक अच्छा दोस्त समयसीमा से परे होता। उन्होंने कहा कि बुलेट से न केवल रोजगार उत्पन्न होंगे बल्कि देश को रफ्तार भी मिलेगी। शिलान्यास से पहले केंद्रीय रेल मंत्री पीयूष गोयल ने कहा कि ये रेलवे प्रोजेक्ट भारत के विकास में बड़ा योगदान देगा। उन्होंने कहा कि यह प्रोजेक्ट पीएम मोदी के न्यू इंडिया के सपने को भी पूरा करेगा।

PunjabKesari

अहमदाबाद से मुंबई के बीच 1.10 लाख करोड़ रुपए की लागत वाली इस बुलेट ट्रेन परियोजना के वर्ष 2022 तक पूरी होने की संभावना है। यह ट्रेन महज दो घंटे में 500 किलोमीटर से ज्यादा दूरी तय करेगी। जापान ने प्रधानमंत्री ने मोदी की महत्वाकांक्षी परियोजना के लिए 0.1 प्रतिशत की न्यूनतम दर पर ऋण दिया है जिसमें 88 हजार करोड़ का कर्ज जापान देगा। यह परियोजना भारतीय रेल और जापान के शिन्कान्सेन टेक्नोलॉजी की संयुक्त परियोजना है। दोनों देशों के प्रधानमंत्रियों ने वडोदरा में एक प्रशिक्षण संस्थान की आधारशिला भी रखी जहां बुलेट ट्रेन परियोजना के लिए 4,000 लोगों को प्रशिक्षण दिया जाएगा। रेल मंत्री पीयूष गोयल, गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपानी और महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस इस अवसर पर उपस्थित थे।




विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !